नालंदा में अपराधियों का नंगा नाच, एन एच 31 पर मुखिया के देवर को गोली मार पांच राइफल लूटे

Share Button

नालंदा (प्रमुख संवाददाता)। नालंदा में अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है और अपराधियों के मनोबल में कोई कमी नहीं आई है। नालंदा के पुलिस कप्तान ने कुछ दिन पूर्व ही जिले में विधि व्यवस्था दुरूस्त करने को लेकर 17 थानेदार सहित कई पुलिसकर्मियों का तबादला किया था। बाबजूद इसके जिले में अपराध थमने का नाम नही ले रहा है।

सोमवार रात्रि नालंदा के वेना थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय राज्य मार्ग संख्या 31 पर बेलगाम अपराधियों ने एक मुखिया के देवर को गोली मार दी तथा पांच लाइसेंसी रायफल सहित लगभग 40 हजार नकद राशि भी लूट ले गए।  गंभीर रूप से घायल संजय यादव पटना के एक अस्पताल में जीवन-मौत के बीच जूझ रहे हैं।

प्राप्त समाचार के अनुसार  चंडी प्रखंड के अरौत पंचायत के मुखिया बबिता देवी के पति श्रवण यादव एवं सिरनावां पंचायत के मुखिया अनिता देवी के पति ऋषिदेब यादव  अपनी चचेरी भांजी के तिलक में सपरिवार वेना थाना के बलबापर गांव से सारे थाना क्षेत्र के कोरन गांव गये थे। तिलक समारोह से रात्रि में लौटने के क्रम में रात्रि दो से ढाई बजे धमौली से नूरसराय जाने बाली पथ में मसान मन्दिर के समीप दो दर्जन अपराधियों ने पीपल का पेड़ काटकर सड़क पर गिराकर घंटों उत्पात मचाया। जबकि स्कार्पियो गाड़ी पर सवार अरौत मुखिया पति श्रवण यादव, सिरनवा पंचायत के मुखिया पति ऋषिदेब यादव समेत 5 लाइसेंसिधारी भी सवार थे। जैसे ही उनका स्कार्पियों धमौली के पास पहुँचा और चालक ने पेड़ गिरा देखकर वाहन रोकी चारों तरफ से अपराधियों ने वाहन को घेर लिया।

अपराधियों ने वाहन में सवार लोगों से रायफल छिनने का प्रयास किया। रायफल लूट का विरोध अरौत पंचायत के मुखिया के  देवर  संजय यादव ने  किया। विरोध करने पर  अपराधियों ने सीने में गोली मार दी और सभी को बंधक बनाकर चालीस हजार रुपये नकद  समेत 5 लाइसेंसी बंदुक भी लूटकर भाग निकले ।

गोली मारने के बाद अपराधी  आपस मे ही सिरनावां  पंचायत के  मुखिया पति को पहचान की बात कह उनका रायफल मन्दिर के पास फेंक  देने की  बाद कह हथियार लहराते चले गए।

जिन लोगों के  लाइसेंसी बन्दूक लूटे गए उनमें   विरनावां  गांव के चन्द्र ईश्वर  यादव  सिरनावां  के बृजनन्दन यादव की बन्दूक तथा धनेश्वर  यादव, अमीर लाल तथा नर्चबार गांव निवासी देवनन्दन यादव शामिल है।

सिरनावां पंचायत के मुखिया पति ऋषिदेब यादव ने बताया कि  तिलक समारोह से लौटने के क्रम में गाड़ी पर ही हल्की नींद अवस्था मे लोग थे। उन्होंने घटना के बारे में आश्चर्य जताते हुए बताया कि वेना क्षेत्र में आजादी की बाद पहली घटना है। घटना के समय अपराधियों ने 4 राउंड फायरिंग  भी की । जिसमे एक लोग घायल है।

इससे पहले अपराधी एक डीजे वाहन को लूटने में लगे थे। लोगों ने बताया कि सभी अपराधी नशे की हालत में थे ।

वेना थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार ने बताया कि  समकालीन अभियान के  दौरान दूसरे गांव में छापेमारी  चल रही थी। उसी दौरान पुलिस को घटना की जानकारी मिल गई थी। 

घटना की  सूचना पाकर सदर डीएसपी निशित प्रिया, एसपी कुमार आशीष, नूरसराय थानाध्यक्ष राजन मालवीय, हरनौत थानाध्यक्ष, संजय कुमार, चंडी इंस्पेक्टर अशोक कुमार, चंडी प्रभारी कमलजीत पहुँच गए थे।

एसपी कुमार आशीष ने घटना के बारे  पुष्टि करते हुए बताया कि एक व्यक्ति को  गोली लगी है तथा पांच  लाइसेंसी बन्दूक लूट की बात  की आई है। सभी लाइसेंसी बन्दूक के कागजात की जांच एसपी स्वंय कर रहे हैं।

घटना के बाद  क्षेत्र के लोग दहशत में लोग है। एन एच 31 पर यह लूट की बड़ी घटना है। इस मार्ग से पटना से रांची और टाटा सहित झारखंड की तमाम बसों का परिचालन होता है। ऐसे में वाहन चालकों और यात्रियों में दहशत पैदा होना स्वाभाविक है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...