नवादा एसपी ने किया पत्रकार को प्रताड़ित !

Share Button

नवादा एसपी लाल मोहन प्रसाद के खिलाफ टाइम्स ऑफ इंडिया के पत्रकार शशीभुषण सिंहा ने एक रिर्पोट छापी। रिर्पोट के अनसुार रजौली थानाध्यक्ष विंध्याचल प्रसाद के खिलाफ तीन महीने से वारंट जारी थी। कोर्ट के द्वारा लगातार रिमांडर दिया जा रहा था पर एसपी उसे थानाध्यक्ष बना कर रखे हुए थे।

गुरूवार को ही यह रिर्पोट मुख्य पृष्ट पर छपी और गुरूवार को शशीभुषण सिंहा के घर एवं दुकान में छापेमारी की। हलांकी छापेमारी में किसी प्रकार का कोई अपत्तिजनक चीज नहीं मिली पर यह घटना पत्रकारों का मनोबल तोड़ने वाला कदम है। 
लाल मोहन प्रसाद सीएम नीतीश कुमार के सुरक्षा में कुछ माह रहे है इससे ये खुद को सीएम से कम नहीं समझते।

……. पत्रकार अरुण साथी के फेसबुक टैग से

Share Button

Relate Newss:

राजस्थान पत्रिका समूह के सलाहकार संपादक बने ओम थानवी
जरुरी है PCI की वित्‍तीय एवं वैधानिक शक्तियों में बढ़ोतरी :न्‍यायमूर्ति सीके प्रसाद
कोई पहले या आखिरी पत्रकार नहीं हैं आशुतोष
राजनीति कर रहे हैं काटजू
दैनिक जागरणः संपादक ने कहा तलवा चाटनेवाला तो रिपोर्टर ने कहा सबूत दिखाइए !
फिर से शुरू होगा कांग्रेस का नेशनल हेराल्ड अखबार : कपिल सिब्बल
DM से की शिकायत तो खगड़िया DPRO ने पत्रकार को दी जान मारने की धमकी
नई विज्ञापन नीति से लघु एवं मध्यम अखबार संचालकों में गहरा रोष
दैनिक खबर मंत्र रिपोर्टर-हेल्थ वर्कर का सीएचसी में फंदे से यूं झुलता मिला शव,जांच में जुटी पुलिस
दैनिक भास्कर रोहतक के एडीटोरियल हेड जितेंद्र श्रीवास्तव ने ट्रेन से कटकर की आत्महत्या
सीबीआई जब इस ‘झूलन’ को ‘झूलाएगी’ तो होगा सनसनीखेज खुलासा
हिंदी पायनियर का हालः न नियुक्ति पत्र न सेलरी स्लिप!
कोर्ट ने फर्जी खबर छापने के मामले में दैनिक जागरण के मालिक को भेजा जेल
प्रभात खबर के रिपोर्टर को व्हाट्सएप पर किसने भेजी जारी जांच की कॉपी ?
हार्ट अटैक से नहीं हुई भास्कर समूह संपादक कल्पेश की मौत, पुलिस मान रही है सुसाइड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...