दैनिक ‘आज’ अखबार के रिपोर्टर की पीट-पीट कर हत्या, SIT गठित

Share Button

“ दूम्बी गांव के निवासी चन्दन तिवारी दैनिक अखबार आज में पत्थलगड्डा प्रखंड के प्रतिनिधि के रूप में कार्यरत थे….”

राजनामा.कॉम। चतरा जिले के पत्रकार चन्दन तिवारी की पीटकर निर्मम हत्या कर दी गई। सिमरिया थाना क्षेत्र के बलथरवा गांव इलाके से उनका शव बरामद हुआ है।

दैनिक आज के रिपोर्टर चन्दन तिवारी…..

स्थानीय लोगों के अनुसार,  मजदूर नेता रघुवर तिवारी के पुत्र चंदन को बीती रात लगभग 8 बजे पथलगड़ा चौक पर देखा गया था। फिर वहीं से उन्हें कुछ लोग अपने साथ मोटरसाइकिल पर कहीं ले गये। सोमवार की रात पुलिस को सूचना मिली कि चंदन को जंगल में अपहरण कर के ले जाया गया है।

सूचना मिलते ही पुलिस व परिजन रात में जंगल की तरफ निकले। खोजबीन के दौरान ही सिमरिया बल्थर जंगल में उन्हें जख्मी हालत में पाया गया। जिसके बाद उन्हें सिमरिया रेफरल अस्पताल उपचार के लिए ले जाया गया। जहां स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

चंदन के शरीर में गंभीर चोट व मारपीट के भी निशान मिले है। घटना की सूचना पाकर सिमरिया एसडीपीओ प्रदीप पाल कच्छप, पत्थलगड्डा थाना प्रभारी नवीन रजक दलबल के साथ मौके पर पहुंच चुके हैं।

डीसी जितेंद्र कुमार सिंह ने दिया मेडिकल बोर्ड गठित कर पोस्टमार्टम कराने का निर्देश, कहा हर हाल में होगी हत्यारों की गिरफ्तारी। जिला प्रशासन पीड़ित परिवार के साथ खड़ा है।

देर रात अपहरण के बाद पत्रकार की निर्मम हत्या मामले में डीसी ने कहा है कि पत्रकार की हत्या करने वाले अपराधियों को सख्त से सख्त सजा मिले इसे लेकर जिला प्रशासन स्पीडी ट्रायल कराएगी। जरूरत पड़ने पर प्रशासन व पुलिस आपसी सामंजस्य स्थापित कर न्यायालय का भी सहारा लेगी।

डीसी के निर्देश पर दिवंगत पत्रकार का सदर अस्पताल में दंडाधिकारियों के उपस्थिति में पोस्टमॉर्टम कराया गया। जांच में किसी प्रकार की कमी न रहे इसे लेकर इस पूरे प्रक्रिया का वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराया गया।

डीसी ने कहा है कि हत्यारों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। घटना में संलिप्त लोगों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के हत्यारों को सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।

हत्या मामले को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया है। दिवंगत पत्रकार चंदन तिवारी के शव का पोस्टमॉर्टम करा कर पुलिस परिजनों को सौंप दिया। पुलिस घटना की हर पहलुओं पर गहनता से पड़ताल करने में जुटी है। वहीं जिला प्रशासन ने मामले में स्पीडी ट्रायल कराने की बात कही है।

मामले को लेकर जिला प्रशासन ने जहां सिमरिया अंचल अधिकारी के नेतृत्व में दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर हत्याकांड की पारदर्शी जांच कराने का निर्देश दिया है वहीं पुलिस अधीक्षक ने एसडीपीओ के नेतृत्व में एसआईटी का गठन कर जांच तेज कर दी है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...