देखिये, शाहनवाज जैसे फ्रॉड का डंसा मौत से कैसे जुझ रहा एक पत्रकार

Share Button
Read Time:4 Minute, 5 Second

“जेजेए यानि झारखंड जर्नलिस्ट एशोसिएशन और उसके स्वंयभू अध्यक्ष यानि शाहनवाज हुसैन। एक ऐसा संगठन और एक ऐसा शख्स, जिसके बारे में समूचे झारखंड से मिल रही सूचनाएं काफी व्यथित करने वाली है।”

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। किसी भी संगठन या उसके स्वंयभूओं को जबरिया  मनमानी, शोषण और दमन करने की छूट नहीं दी जा सकती। खास कर उन्हें जो तत्थों से परे सिर्फ दुष्प्रचार के बल अपना स्वार्थ साधने वालों को तो बिल्कुल नहीं।

शहनवाज के कहने पर कथित जेजेए संगठन के लोगों ने शोसल साइट के कई ग्रुपों पर राजनामा.कॉम और उसके संचालक को लेकर कई तरह की उटपुटांग बातें लिखी गई है। लिखने वाले संदीप बर्नवाल से जब जानकारी चाही कि अपहरण के मुकदमा कहां दर्ज है? इस पर उसने पता कर बताते हैं..कह कर फोन काट दिया। फिर दर्जनों बार फोन करने पर उसने फोन नहीं उठाया। गलत मैसेज वायरल करने वाले दूसरे अजय चौधरी ने बताया कि उसे शहनवाज हुसैन ने जैसा डालने को कहा, उसने बिना पढ़े वैसा ही डाल दिया। इसके ऑडियो रिकार्ड हमारे पास सुरक्षित है। शहनवाज हुसैन को कई बार फोन किया। लेकिन उसने नहीं उठाया। बाद में वाहट्सएप्प पर उसने कोई स्पष्ट जबाव नहीं दिया।

रही बात किसी संगठन से आर्थिक मदद या अन्य सहायता  मांगने की तो कोई यह मुगालता न पाले। मदद की जरुरत उन्हें होती है, जो निकम्मे होते हैं या फिर लाचार। जोकि हम नहीं हैं। शहनवाज जैसे बहरुपिये से कोई क्या खाक मदद की उम्मीद रखेगा। मानसिक तौर पर विकलांग दूसरों में सहारा खोजते हैं। खुद किसी का सहारा नहीं बनते।

इसी बीच कल देर शाम एक ऐसे मामले की जानकारी मिली, जिसने अंदर तक आहत कर डाला है। यह मामला शाहनवाज हुसैन द्वारा रांची से अपना बोरिया-बिस्तर समेट चुके एक न्यूज चैनल के सीनियर रिपोर्टर रहे प्रभात रंजन की है। प्रभात फिलहाल रांची के गुरुनानक अस्पताल में जिंदगी और मौत से जुझ रहा है। वह इस कदर बीमार हैं कि कल उसे लगातार खून चढ़ाया जा रहा है।

उधर उसके पिताजी भी गंभीर रुप से बीमार बताये जा रहे हैं। उनका ईलाज सीएमसी वेल्लौर में हो रहा है। शुक्र मनाईये कि कल एक सज्जन टीवी जर्नलिस्ट ने रांची प्रेस क्लब के व्हाट्सएप्प ग्रुप पर यह सूचना डाली तो उस ग्रुप से जुड़े सदस्य मदद को उमड़ पड़े। वेशक इस ग्रुप की मानवीयता सलामी के पात्र हैं।

बहरहाल, अस्पताल में भर्ती प्रभात रंजन की एक वीडियो प्राप्त हुई है। उस वीडियो को देखने के बाद जेजेए जैसे संगठन और शाहनवाज जैसे फ्रॉड अध्यक्ष की अमानवीयता साफ स्पष्ट होती है।    

देखिये वरीय रिपोर्टर प्रभात रंजन की वीडियो और खुद आंकलन कीजिये कि संगठन की आड़ में मीडिया में लोग कैसे प्रतिभा को कुचल रहे हैं…

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

आदिवासी इलाकों में पंचायत चुनाव नहीं होने देंगे स्वामी अग्निवेश
......और मुड़ी कटाएं धनबाद थानेदार!
ओ री दुनियाः गरीब का जीवन कुक्कुर से भी बदतर देखा
सिद्धू ने हमारे साथ बड़ा धोखा किया :स्टार इंडिया
इतना तो विश्वास है ही...........
बिहार में पार्टी की बुरी हार का एक बड़ा कारण :भाजपा सांसद
पटना ब्लास्ट: मुजफ्फरपुर से फरार आरोपी मेहरार को यूपी पुलिस ने दबोचा
बहुत कठिन है सहिष्णु होना श्रीमान
" झारखण्डी नृत्य की विविधता , उराँव जनजाति की महत्ता के साथ "
टीएमएच में मौत से जूझ रहा है टीवी रिपोर्टर बिपीन मिश्रा
सीबीआई और दिल्ली पुलिस ने छोटा राजन को लेकर बनाया मीडिया वालों को बेवकूफ
फेकऑफ से पता लगाएं कि फेसबुक पर हैं आपके कितने फर्जी दोस्त
NDA जीती तो प्रेम कमार होगें भाजपा के CM
ताला मरांडी को लेकर पार्टी-संघ गंभीर, मुन्ना मरांडी हुआ भूमिगत !
यूपी में कानून व्यवस्थाः दो हफ्ते में फूंक दिए गए चार थाने!
ऐसी नौटंकी से क्या दूर होगा बाल विवाह और दहेज की कुप्रथा !
भाजपा ने 'स्वाभिमान रैली' को 'अपमान रैली' बताया
अपने ही मांद में हारे Ex.CM मुंडा, मरांडी, कोड़ा और सोरेन !
लालू ने पोस्ट की रैली पूर्व की यूं रंगारंग वीडियो, कहा- इनको शर्म नहीं आती
दैनिक भास्कर के बोकारो ब्यूरो चीफ की दबंगई से रोष
चक्रधरपुर पवन चौक पर पत्रकार पवन शर्मा की मूर्ति का अनावरण
राहुल गांधी के बाद कांग्रेस का टि्वटर अकाउंट भी हैक, किए गंदे ट्वीट्स
दैनिक हिन्दुस्तान ने किसान का करा दिया हवा में पोस्टमार्टम!
मनरेगा में भ्रष्टाचार के तमाचे का यूं हुआ समझौता
नारायण..नारायण, फेसबुक पर आये हरिनारायण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...