‘दुर्ग’ केस में गंभीर हुये सीएम नीतीश, जोनल आईजी करेंगे विशेष जांच

Share Button
Read Time:0 Second

राजनामा।कॉम। राजस्थान के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को फर्जी मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जांच के आदेश दिए हैं।

सीएम नीतीश कुमार ने इस प्रकरण का संज्ञान लेते हुए उच्चस्तरीय जांच करने को कहा है। सीएम के आदेश के बाद पटना के जोनल आईजी नैयर हसनैन खान को जांच का काम सौंप दिया गया है।

बताया जाता है कि जल्द ही जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है। मुख्यमंत्री के स्तर से कहा गया है कि किसी भी निर्दोष को बेवजह परेशानी नहीं हो।

पटना में दुर्ग के परिजन काफी परेशान हैं। घर के लोगों को कहना है कि सोशल मीडिया पोस्ट के कारण यह सब साजिश रची गई है। परिवार के लोगों ने बाड़मेर की भाजपा नेता प्रियंका चौधरी पर साजिश रचने का आरोप लगाया गया है। उधर, प्रियंका ने कहा है कि उसका इस मामले से कोई मतलब नहीं है।

उम्मीद की जा रही है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जांच के बाद रहस्य से पर्दा उठ सकता है। फिलहाल इस कांड को लेकर बाड़मेर समेत देश भर के पत्रकारों में आक्रोश है।

इस बीच पूरे प्रकरण पर दिल्ली के वरिष्ठ पत्रकार और सोशल मीडिया पर बेबाक लेखन करने वाले संजय कुमार सिंह का कहना है-

”राजस्थान के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित की गिरफ्तारी, व्हाट्सऐप्प पर एसपी को सूचना और राजस्थान पुलिस द्वारा उसे धोखा देकर गिरफ्तार किया जाना और पटना पहुंचा दिया जाना। वहां यह पता चलना कि उसके खिलाफ (अदालत में) दर्ज मुकदमा फर्जी है।

शिकायतकर्ता को कुछ पता ही नहीं है। यह एससी-एसटी कानून और अधिकारों का खुलेआम दुरुपयोग किए जाने का मामला है। इसमें भाजपा के एक बड़े नेता (जो राज्यपाल भी बड़े हैं) के शामिल होने की चर्चा है। क्या इस मामले में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को स्थिति स्पष्ट नहीं करनी चाहिए?

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

लोग गाय, सुअर, भैंस..कुछ भी का मांस खा सकते हैं :केरल भाजपा अध्यक्ष
इन दिनों काफी सुर्खियों में है सरायकेला दैनिक जागरण का यह रिपोर्टर !
नालंदा एसपी ने 'ट्रक वसूली' का ठीकरा हवलदार के सिर फोड़ा !
गणेश शंकर विधार्थी : हिंदी पत्रकारिता के मेरूदंड
खूंटी में विकास के ये कैसे रास्ते हैं ?
नालंदा में अपराधियों का नंगा नाच, एन एच 31 पर मुखिया के देवर को गोली मार पांच राइफल लूटे
लोकप्रियता में फेसबुक से आगे निकला व्हाट्सएप्प
और भारत में बिल्कुल संस्कारी बना दिया गया जेम्स बॉन्ड
हत्यारा या शाजिश के शिकार हैं एनोस एक्का
बिहार में रंग लाई लालू-नीतीश की दोस्ती
नालंदा में बंदी की खुली पोल, होंडा कार से 7 पेटी अवैध अंग्रेजी शराब बरामद
नालंदाः पुलिस और पत्रकार के बीच मारपीट, यह रहा सच
हिन्दुस्तान की कुराह चला भास्कर, नालंदा एसपी के हवाले से छाप दिया ऐसी मनगढ़ंत खबर
सच्चाई कुछ...छापा-दिखाया कुछ
शत्रुघ्न सिन्हा का चुनाव प्रचार से दूर रखने का छलका का दर्द
आजादी के हनन  को लेकर  नॉर्थ ईस्‍ट इंडिया के 6 प्रमुख अखबारों  के एडिटोरियल स्‍पेस ब्लैंक्स
निर्भया गैंगरेप डॉक्यूमेंट्री: असल मुद्दा क्या है?
पत्रकारिता छोड़ी, संभाली खेती और सूखे में भी उगा दी धान की उन्नत फसल
रघुवर सरकार में मंत्री बने शमरेश सिंह के बौराये 'बाउरी ' !
न्यूज़ रूम में अब पीएमओ से फोन पर निर्देश आते हैं : पुण्य प्रसून वाजपेयी
पत्रकार को फंसाने वाली मुखिया के खिलाफ यूं फूटा ग्रामीणों का गुस्सा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
mgid.com, 259359, DIRECT, d4c29acad76ce94f
Close
error: Content is protected ! www.raznama.com: मीडिया पर नज़र, सबकी खबर।