‘दुर्ग’ की रिहाई पर बाड़मेर में बंटी मिठाईयां,  तेज हुई CBI जांच की मांग ‘

Share Button

राजस्थान से प्रकाशित समाचार पत्रों के माध्यम से जैसे ही पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित को पटना की अदालत द्वारा जमानत मिलने की खबर वहां के पत्रकारो को मिली तो पूरे राजस्थान के पत्रकारों में हर्ष छा गया। शनिवार को बाडमेर में पत्रकारों ने जमकर पटाखे फोड़े और खुशी में खूब मिठाईयां बांटी…”

राजनामा.कॉम। पटना में दायर एक कथित फर्जी मुकदमे के आलोक में राजस्थान के बाडमेर में ‘इंडिया न्यूज’ के संवाददाता दुर्ग सिंह  को बाडमेर से गिरफ्तार कर पटना लाए जाने के मामले में तूल पकड़ लिया है।

आईएफडब्ल्यूजे की राजस्थान ईकाई का एक प्रतिनीधि मंडल राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह से तो जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान से जुड़े पत्रकारों ने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे सिंधिया से मिलकर पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराये जाने की मांग की है।

मुख्यमंत्री से मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से कहा कि ‘यह एक इंटर-स्टेट मामला है। इस तरह के फर्जी मामले से राजस्थान और बिहार दोनों राज्यों की छवि खराब हुई है, इसलिए इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए।’

‘जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान’ के अध्यक्ष नीरज गुप्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल को यह आश्वासन दिया है कि ‘वह इस संदर्भ में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात करेंगी और जरुरत पड़ी तो वह गृह मंत्रालय से इस मामले की सीबीआई जांच की अनुशंसा भी करेंगी।’

हालांकि इस गंभीर मामले की जांच का आदेश बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को ही कर दी थी। मुख्यमंत्री के आदेश के बाद पटना के जोनल आईजी नैयर हसनैन गुरुवार से ही इस मामले की छानबीन में जूट गए हैं। उन्हें रविवार तक अपनी रिपोर्ट राज्य के डीजीपी को सौंप देनी है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...