……तो अब दारु छोड़ देंगे भड़ास वाले यशवंत !

Share Button

पत्रकारिता की दुनिया में भड़ास4मीडिया के जरिये भूचाल ला देने वाले देश के चर्चित पत्रकार यशवंत सिंह बीती रात्रि बाथरूम में गिरकर घायल हो गए! ईश्वर की कृपा यह रही कि उन्हें ज्यादा गंभीर चोट नहीं आयी लेकिन इस घटना से पत्रकारिता की दुनिया में नई क्रान्ति आने की संभावनाएं जग गयी है।

मैं दरअसल ऐसा इसलिए लिख रहा हूँ कि इस घटना से यशवंत सिंह से दारु पीने की बुरी लत छूट सकती है। यदि ऐसा होता है तो यशवंत सिंह की सबसे बड़ी बुराई दूर हो जाएगी और वह पहले से ज्यादा अपनी कलम को धार दे सकेंगे!

इसमें कोई शक नहीं कि कलमकारों की आवाज़ को बुलंद करने वाले यशवंत सिंह ने पत्रकारिता में पत्रकारों की आवाज़ को बुलंद कर इतिहास रचने का काम किया है। शायद ही देश का ऐसा कोई पत्रकार होगा जो यशवंत सिंह की कलम और जज्बे का दीवाना न हो।

बाथरूम में गिरकर यशवंत सिंह घायल ही हैं और उनकी भौंह के उपर काफी चोट हैं लेकिन ख़ुशी की बात यह है कि खुद यशवंत सिंह अब अपनी दारूबाजी की लत से छुटकारा चाहते हैं!

जैसे ही उन्होंने फेसबुक पर अपने घायल होने और दारु छोड़ने की पोस्ट डाली, सोशल मीडिया पर उन्हें कमेंट में सलाह देने का दौर शुरू हो गया। मैं खुद भी चाहता हूँ कि वो दारु छोड़ दें क्योंकि दारूबाजी उनका वो समय खराब कर देती है जिसमें वो पत्रकारों / आमजन के मुद्दों को और धार दे सकते हैं।

उम्मीद करता हूँ, यशवंत भाई जल्द ही स्वस्थ हो जायेंगे और दारूबाजी से भी मुंह मोड़ लेंगे। साथ ही आशा यह भी करता हूँ कि उनके स्वस्थ होते ही देश के बड़े मीडिया घरानों के बड़े खुलासे भी होंगे क्योंकि अब भड़ास4मीडिया पर दारुबाज यशवंत सिंह नहीं बल्कि अपने भोले-भाले पत्रकार यशवंत सिंह होंगे।

यशवंत भाई के जल्द स्वस्थ होने और दारु छोड़ देने की उम्मीद के साथ…

……जियाउर्रहमान, संपादक ,  www.vyavasthadarpan.in

Share Button

Relate Newss:

‘आप’ से देश की अर्थव्यवस्था को खतरा
YBN न्यूज़ चैनल दफ्तर में हंगामा और तालाबंदी, बोरिया-बिस्तर समेत भागते दिखे चैनलकर्मी
जागरण.कॉम के संपादक शेखर त्रिपाठी को मिली जमानत
पत्रकार विनायक विजेता ने भड़ास4मीडिया के यशवंत सिंह से कहा- तथ्यों पर आधारित है उनकी खबर
यह है दैनिक जागरण की शर्मशार कर देने वाली पत्रकारिता
बिल्डर की दंबगई पर दैनिक भास्कर का "खेला"
सीएम रघुबर दास की इस हरकत पर कानून के साथ मीडिया भी नंगी
ड्रग माफिया के खिलाफ आवाज उठाई तो हाथ-पैर काट डाले !
रघु'राज के लिए शर्मनाक है इस श्रवण कुमार की कठिन पेंशन यात्रा
पत्रकार को सिर्फ पत्रकार होना जरूरी नही !
बिहार डीजीपी से सीधी बात के बाद पीड़ित पत्रकार ने यूं तोड़ा आमरण अनशन
DMCA के पचड़े में फंस भड़ास4मीडिया बंद, बोले यशवंत-जल्द निकलेगा हल
मोदी के आंसू के बीच भरतीय मीडिया में नीतिश-लालू बने जोड़ी नं. वन
संदर्भ दिग्गी-अमृता विवाहः इस स्थिति में क्या करेंगे आप?
चैनल-कर्मियों को वेतन नहीं, कंपनी खोल रहा है होटल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...