तिरंगा यात्रा की नहीं छपी खबर, प्रायः नामचीन अखबारों की जलाई प्रतियां

Share Button

आज देश में मीडिया का चेहरा बदल रहा है। मीडिया चाहे दिल्ली की हो या फिर जिलों की कमोबेश एक सी ही मनोवृत्ति दिखती है। समस्याओं को अपने अखबार में जगह नहीं देना है। खासकर जब जन आंदोलन सरकार के खिलाफ हो तो एक शब्द भी खबर नही बनती है…….”

राजनामा.काम डेस्क। कुछ ऐसा ही हुआ है बिहार के गया में, जहाँ गणतंत्र दिवस के मौके पर निकली सबसे लंबी तिरंगा यात्रा से संबंधित किसी भी बडे़ अखबार में खबर नही छपी।

तिरंगा यात्रा से संबंधित खबर गया संस्करण के किसी भी अखबार में जगह नहीं मीली तो लोगों का गुस्सा मीडिया के प्रति उबल पडा़।

गया के दैनिक संस्करण दैनिक जागरण, कौमी तंजीम, उर्दू सहारा, हिंदुस्तान, प्रभात खबर, दैनिक भास्कर के प्रति नाराजगी दिखाते ऐसे पक्षपाती पत्रकारिता के खिलाफ जनता उठ खड़ी हुई और इन  अखबारों का जुलूस निकालते हुए लोगों ने अखबार की प्रतियां जला दी।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर  बिहार के गया जिले में अब तक की सबसे लंबी तिरंगा यात्रा निकाली गई थी, जिसमें लगभग 15 से 20 हजार की संख्या में लोग मौजूद थे, लेकिन इस खबर को किसी भी अखबार ने नहीं छापा।

जिसके विरोध में लोगों ने शहर के मीर्जा गालिब कॉलेज के समीप कई दैनिक अखबार में आग लगा कर अपना विरोध जताया।

साथ ही यह भी कहा कि मीडिया को सभी को साथ लेकर खबर देखाना चहिए। पर मीडिया सिर्फ पैसे वाले लोगों की ख़बर और एड को जगह देती है।

उन्होंने अखबार पर पर कई गभीर आरोप लगाए। मौजूद युवाओं ने कहा कि इस कारण से प्रतिष्ठित समाचार पत्र की छवि धुमील हुई। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होता रहा तो वह लोग ऐसे सभी अखबार का बायकाट करेंगे।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...