तालाब में हलचल मचाने का समय

Share Button

रैली से पहले राजनीति हुई।  रैली तो राजनीति के लिए थी ही, सो वहां राजनीति हुई। राज करने वाले ने अपनी प्रजा के लिए न रैली में, न ही रैली के बाद (बम ब्लास्ट में मरने वालों के लिए) राजधर्म अपनाया।

हां , राजनीति धर्म जरूर अपनाया।  भाषण के हर क्लिप पर पूरा होम वर्क किया। हुंकार शब्द के लिए शब्द कोष देखा।

पूरे देश को भाषण के स्क्रिप्ट की खामियों को विस्तार से बताया।  मतलब जम कर फिर राजनीति हुई।  फिर कानून व्यवस्था और लाशों पर राजनीति हुई।

फिर मृतकों से नहीं मिलने पर राजनीति हुई ।  जब मिलने आये तो फिर राजनीति हुई।  ये राजनीति भी  जनता को गोल गोल घुमाने में माहिर है।  सब मछुआरे घात लगा कर तालाब के ऊपर बैठें है। आखिर जनता जायेगी किधर?  कहीं न कहीं तो फंसना ही है । 

वेशक नकारत्मकता, सनसनी, बौखलाहट, बेचैनी देती है। मछलियाँ सोये रहेंगी तो फिर फंसेंगी कैसे ?    जाहिर है कि तालाब में हलचल तो मचानी होगी

Share Button

Relate Newss:

रघुबर जी, शराबबंदी को लेकर अपनी बाट न लगाईए
क्या फर्जी है बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति!
लालू-कन्हैया की मुलाकात के बीच शराब कारोबारी की मौजूदगी का क्या है राज !
हिन्दुस्तान की कुराह चला भास्कर, नालंदा एसपी के हवाले से छाप दिया ऐसी मनगढ़ंत खबर
सुलगते सवालों का अजायब घर है अवनीन्द्र झा की 'मिस टीआरपी' पत्रकारिता
झारखंड में JJA की आवाज- नीतीश होश में आओ, पत्रकारों का दमन स्वीकार्य नहीं
गया पार्लर कांड: CM नीतिश के बेटे को फंसाने की थी साजिश!
बालू माफियाओं पर गरमी, पत्थर माफियाओं पर नरमी,आखिर क्या है राज!
पूर्व मध्य रेलवे में 'स्क्रैप घोटाले' की हो बिंदुवार जांच
'मलमास मेला सैरात भूमि को 3 सप्ताह के अंदर अतिक्रमण मुक्त कराएं राजगीर सीओ'
मुर्गी लदे वाहन से कुचल कर प्रेस फोटोग्राफर मंजन की मौत
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाले में गिरफ्तार हो सकते हैं शशि शेखर समेत शोभना भरतिया
पूर्व भाजपा सांसद शहनवाज हुसैन से कुख्यात शहाबुद्दीन के रहे हैं गहरे ताल्लुकात
राजगीर में बना फर्जी पत्रकार संघ, नियोजित शिक्षक बना कोषाध्यक्ष
चुनाव आयोग ने नीतीश सरकार पर कसा शिकंजा, नालंदा के डीएम समेत 49 IAS इधर-उधर !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...