डीएसपी साहेब बताईये, कौन पी गया प्रतिबंधित अंग्रेजी शराब की 24 बोतलें !

Share Button

dsp-hilsa-wine-crime-1नालंदा(संवाददाता)। जिले के नगरनौसा थानान्तर्गत रामघाट-लोहंडा मार्ग पर राजकीय भोभी हाई स्कूल से आगे कछियावां गांव  मोड़ के पास एक दिल्ली नंबर वाली मोटर कार ( होन्डा सैंट्रो) की डिक्की से बरामद अंग्रेजी शराब की बोतलों को लेकर कई तरह की रोचक सूचनायें आ रही है। 

पुलिस अवर निरीक्षक संतावन दास के अनुसार उन्हें यह गुप्त रूप  सूचना मिली थी एक होण्डा कार से अवैध शराब का करोबार हो रही है,  उसी के अलोक में जब छापामारी किया गया तो गाड़ी के डिक्की से प्रतिबंधित शराब  (रॉयल स्टेज) की सात कार्टून में बंद 84 बोतलें बरामद हुई।  जिसमें एक बोतल फूटा हुआ पाया गया और करवाई की भनक लगते ही वाहन चालक  भागने में सफल रहा।

इस बरामदगी के बाद जब स्थानीय संवाददाताओं ने पड़ताल की तो ग्रामीणों ने बताया कि कार की डिक्की से कुल 9 कार्टून शराब की बरामदी देखने को मिली थी। नगेन्द्र जमादार, शिब जी जमादार, अमीरक जमादार, अगनु जमादार द्वारा जिस सीजर लिस्ट पर साइन करवाया है , उनलोगों  पूछ ताछ के दौरान  9 काटून शराब बरामदगी की पुष्टि की। लेकिन इधर नगरनौसा थाना प्रभारी द्वारा कुल 7 काटून शराब मिलने की ही बात बताई गई।

इस संदेहास्पद बरामदगी के बीच हिलसा डीएसपी धर्मेन्द्र भारती नगरनौसा थाना पहुंच कर स्थिति का जायाजा लिया है। उन्होंने प्रेस को बताया कि नगरनौसा थाना पुलिस की गश्ती दल को देख कर एक सैंट्रो कार तेजी से भागने लगा और जब पुलिस ने शंका करते हुये पीछा किया तो चालक अपनी कार को छोड़ कर फरार हो गया।

अब सबाल उठता है कि प्राथमिक तौर पर थाना पुलिस का बयान और उसके बाद डीएसपी साहब की बातों में आस्मांऔर जमीं का फर्क कैसे आ गया। कहीं पुलिस महकमा के लोग अपने-अपने स्तर से आदतन हर अपराध पर सिर्फ मीडिया की सुर्खियां पाने की कहानियां तो नहीं गढ़ती है।

बहरहाल, डीएसपी साहब ही भली-भांति बता सकते हैं कि  प्रतिबंधित रायल स्टेग की दो कार्टून यानि 24 बोतल शराब बीच रास्ते में कहां गायब हो गई, जो ग्रामीणों के दावे के अनुसार चर्चा और जांच का एक विषय बन गया है ।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.