डिक्की में जबरन दारू रख फंसाने जाने को लेकर उत्पाद अधीक्षक समेत 6 पर केस

Share Button

दरभंगा। उत्पाद विभाग द्वारा न जाने कितने लोगों को दारु के साथ या दारू के नशे में पकड़ा जाता है जिसकी हकीकत अक्सर वही सामने आती है जो विभाग द्वारा बताया जाता है। शायद आरोपी का पक्ष सामने नही आ पाता। पर इस बार खुद को फसाये जाने का विरोध करने की हिम्मत करने वाले भी आखिर सामने आये।

लहेरियासराय थाना क्षेत्र के न्यू मार्केट कमर्शियल चौक निवासी अभय कुमार सिन्हा ने शनिवार को दरभंगा के उत्पाद अधीक्षक दीनबन्धु, अनि उत्पाद सदर दक्षिणी अंचल विनीत प्रसाद, सदर दक्षिणी अंचल के सअनि अरविन्द कुमार सिंह व तीन अन्य उत्पाद पुलिस कर्मियों के विरूद्ध सीजेएम की अदालत में नालिसी मुकदमा दायर किया है।

अपने परिवाद पत्र में श्री सिन्हा ने कहा कि 29 सितंबर की शाम 7 बजे वे अपने बीमार लड़के को डॉक्टर से दिखाने जा रहे थे। कमर्शियल चौक के निकट उत्पाद अधीक्षक के नेतृत्व में चेकिग अभियान चल रहा था। जिस कारण जाम की स्थिति बनी हुई थी।

उन्होंने उत्पाद अधीक्षक से जाने देने के लिए कहा। इस पर उन्होंने गाली-गलौज व मारपीट की। अपने मातहत से मेरी बाइक की डिक्की में शराब रखकर मुझे फंसाने का काम किया। इसके अलावा और कई आरोप लगाए गए हैं।

सीजेएम विद्यासागर पाण्डे की अदालत ने परिवाद पत्र सं0 1353/16 की गंभीरता को देखते हुए दप्रसं की धारा 192 के तहत अग्रेतर कार्रवाई हेतु प्रथम श्रेणी न्यायिक दण्डाधिकारी शमीम रजा की अदालत में स्थानान्तरित कर दिया है।

वादी की ओर से अधिवक्ता अमरेन्द्र कुमार झा एवं हेमन्त कुमार ने अदालत के समक्ष पक्ष रखा।

शराब बंदी के दिन ही पकड़ाया शराब की बड़ी खेप!

wine-crime1बिहार में नए शराबबंदी कानून लागू होने के दिन ही दरभंगा जिले के सिंघवाड़ा थाना क्षेत्र के लालपुर गांव के परती टोल निवासी पवन यादव के घर के सामने से एक पिकअप विदेशी शराब को दरभंगा पुलिस ने बरामद किया है। बरामद विदेशी शराब कुल 95 कार्टून 750 ml का है जो हरियाणा निर्मित है।

जप्त शराब की बाजार कीमत लगभग सात से आठ लाख रुपया आँका जा रहा है। मौके पर पहुंचे दरभंगा एएसपी दिलनवाज अहमद ने बताया की गुप्त सुचना मिली थी की शराब माफिया भाड़ी मात्रा में विदेशी शराब की खेप ले कर आ रहा है। इसे लेकर चौकसी तेज की गयी थी और सिंहवाड़ा थाना क्षेत्र के लालपुर गांव के परती टोल निवासी पवन यादव के घर के सामने से जप्त किया गया।

इस मामले में पवन यादव और पिकअप मालिक विनोद कुमार को अभियुक्त बनाया गया है।

Share Button

Relate Newss:

बीबीसी की 'इंडियाज़ डॉटर' की आलोचना में महिलाएं आगे
बहुत जरुरी है सोशल साइट से मिली तस्वीरों की जाँच
‘दुर्ग’ केस में गंभीर हुये सीएम नीतीश, जोनल आईजी करेंगे विशेष जांच
बेउर जेल में बंद कुख्यात रीतलाल के घर पहुंचे लालू
तेजस्वी यादव ने फेसबुक के जरिये दी सुशील मोदी को चुनौती
प्रभात खबर के आरा ब्यूरो चीफ के तबादले पर सुप्रीम कोर्ट की रोक
मैं शहीद पापा बेटी हूं, पर आपके शहीद की बेटी नहीं : गुरमेहर
रघुवर सरकार में मंत्री बने शमरेश सिंह के बौराये 'बाउरी ' !
जब डॉ. मिश्र ने महज इंदिरा जी को खुश करने के लिए इस बिल से देश में मचा दिया था तूफान
सड़क हादसे का शिकार हुआ आंचलिक पत्रकार, हालत गंभीर, रेफर
वाह री नालंदा पुलिस ! साजिशन हमले के शिकार पत्रकार को ही बना डाला मुख्य आरोपी
रेलवे की जमीन से जारी पशुओं की अवैध खरीद-बिक्री पर प्रशासन की वैध मुहर !
मंगोलियाई नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही खुद को किया आग के हवाले
गिरियक के पत्रकार निसार अहमद के घर बम फेंका, सूचना के 12 घंटे बाद भी नहीं पहुंची थाना पुलिस
अगर डॉक्टरी न करके गुलामी कबूल कर ली होती तो उसके दुधमुहें बच्चे राख न होते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...