डायन-बिसाही के आरोप में 4 की हत्या,  कटे सिर लेकर हत्यारे पहुंचे कुचाई थाना

Share Button

झारखंड के सरायकेला जिला के कुचाई थानाक्षेत्र में डायन-बिसाही के आरोप में चार लोगों की हत्या कर दी गई। मृतकों में दो महिला और दो पुरुष शामिल हैं। घटना सोसोकेड़ा गांव की है।

sraikelaआरोपियों ने हत्या के बाद थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। इस दौरान आरोपी एक महिला का कटा सिर लेकर थाने पहुंचे थे। आरोपी सगे भाई हैं।

आरोपी श्यामलाल मुंडा के एक साल के बेटे की शनिवार को किसी वजह से मौत हो गई थी। श्यामलाल ने इस मौत की वजह डायन-बिसाही को माना और इसका आरोप अपने पड़ोस में रहने वाली जिंकारू मुंडाईन (70 वर्ष) पर लगाया।

देर रात श्यामलाल अपने भाई रायसिंह मुंडा के साथ उसके घर पहुंचा और धारदार हथियार से जिंकारू का सिर धड़ से अलग कर दिया।

jharkhand-dayan-bisahiबगल में ही सोये जिंकारू के दो बेटे घसिया मुंडा (50 वर्ष) व हागल मुंडा (40 वर्ष) और बेटी सोरू मुंडाईन (55 वर्ष) की भी हत्या कर दी।

इसके बाद सुबह दोनों आरोपी बच्चे का शव और जिंकारू मुंडाईन का सिर लेकर थाने पहुंचे और आत्मसमर्पण किया।

पुलिस का कहना है कि इस घटना को अंधविश्वास की वजह से अंजाम दिया गया है। गांव में जागरुकता की काफी कमी है।

बताते चलें कि इसी साल अगस्त में रांची जिले के मांडर इलाके के कनीजिया गांव में ग्रामीणों ने ‘डायन’ बताकर लाठी-डंडे से पीट कर पांच महिलाओं की हत्या कर दी थी।

Share Button

Relate Newss:

कमीशन के खेल में फंसी रांची की मेयर आशा लकड़ा
उपेक्षित है नेताजी से जुड़े झरिया कोयलाचंल का यह विरासत
पीआरडी में विशिष्ट अतिथि बनकर आता था महापापी ब्रजेश ठाकुर
मंगोलियाई नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही खुद को किया आग के हवाले
अमरीकाः आप कैसा योग पसंद करेंगे- ताकतवर या हॉट ?
बिहार रिपोर्टिंग बैन पर SC बोला- खबर पर रोक गलत,सरकार को नोटिश
हिंदी पत्रकारिता दिवस: बिहार में साहित्यिक पत्रकारिता का विकास
लोग गाय, सुअर, भैंस..कुछ भी का मांस खा सकते हैं :केरल भाजपा अध्यक्ष
विनय हत्याकांड में आया नया मोड़, शक के घेरे में अब लेडी टीचर !
न्यूज वेब साइट पोर्टल को फर्जी कहने वाले की करें शिकायत, वे सीधे नपेगें
कैलाश सत्यार्थी के नोबल पुरस्कार पर उठे सबाल
सुरेन्द्र शर्मा की हास्य होली के निशाने पर यूं रहे नामी हस्तियां
……और यूं सन्‍न रह गये बिहार के सीएम नीतीश कुमार
द नेशनल फाउंडेशन फॉर इंडिया की मीडिया फेलोशिप का डेडलाइन 30 दिसंबर
अंततः कोर्ट के आदेश से दर्ज हुआ इंजीनियरों पर गबन का FIR

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...