टॉपर रुबी राय बीएसईबी पटना कार्यालय से अरेस्ट

Share Button

पटना। टॉपर घोटाले में स्टेट आर्ट्स टॉपर रूबी राय गिरफ्तार हो गई है. बार बार अल्टिमेटम के बाद आज रूबी रॉय बोर्ड ऑफिस में कमिटी के सामने उपस्थित हुई. कमिटी के सामने बुनियादी सवालों का जबाब नहीं दे पाने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

टीम ने पहले ही रूबी रॉय पर वारंट जारी किया था. डीएसपी शिवली नोमनी के अगुआई में पुलिस भी बोर्ड ऑफिस पहुंच गई थी. जैसे ही इंटरव्यू खत्म हुआ रूबी को गिरफ्तार कर लिया गया. बोर्ड ऑफिस में आज सुबह नौ बजे से तीन बजे तक उपस्थित होना था. तीन बजे के बाद रूबी सवालों के जबाब देने के लिए एक्सपर्ट के सामने पहुंची. लेकिन सवालों के जबाब देने में असफल होने पर गिरफ्तार किया गया.

rubiउल्लेखनीय है कि रूबी रॉय इंटर टॉप करने के बाद जब उसके द्वारा सवालों के जबाब देने के बाद बबाल हुआ था. बबाल के बाद जब टॉपर घोटाला का खुलासा हुआ तो इंटर टॉपरों का अलग से इंटरव्यू लिया गया जिसमें रूबी शामिल नहीं हुई फिर उनहें दस दिन की मोहलत दी गई थी. उसमें भी शामिल नहीं हो पायी थी. रूबी रॉय के बारे बताया गया था कि वो बीमार है इसलिए शामिल नहीं हो पा रहीं है.

एसएसपी  मनु महाराज ने कहा कि पुलिस ने अबतक 17 लोगों को गिरफ्तार किया है. जो लोग इस घोटाले में सामने आये है एक एक कर गिरफ्तार किया जा रहा है. मनु महाराज ने कहा कि लालकेश्वर कि पत्नी ने बताया कि कॉलेजों के एफ्लिकेशन के लिए  एक लाख से चार लाख रूपया लिया जाता था.

Share Button

Relate Newss:

आज 31 मई को काला दिवस मना रहे हैं हम !
हाईकोर्ट में लगी मनु की मूर्ति के खिलाफ राष्ट्रव्यापी आन्दोलन का ऐलान
‘अपराधियों के बाद अब पुलिस-प्रशासन के निशाने पर पत्रकार’
मीडिया मालिकों के कालाधन पर क्यों नहीं पड़ा छापा : आलोक मेहता  
गीता प्रेस के कर्मचारियों की हड़ताल प्रबंधन के शर्तों पर हुई खत्म
आदिवासियों को आदिवासी ही रहने दें रघुवर जी
समूचे बिहार में जारी है शराब रैकेट, सीएम का गृह जिला नालंदा अव्वल !
मांझी का चुनावी स्लोगन- पहले मतदान करें, फिर मद्दपान
यूपी में पत्रकार जगेन्द्र की हत्या पर केंद्र व राज्य सरकार को नोटिस
डीएसपी साहेब बताईये, कौन पी गया प्रतिबंधित अंग्रेजी शराब की 24 बोतलें !
पत्रकार प्रताड़ना को लेकर यूं मुखर हुए पूर्व विधायक अनंत राम टुडू
इस तरह के भूल से क्यों नहीं बच पा रहा है दैनिक भास्कर   
फुहर है आज की मीडिया, आरोपी को इस तरह बचा रही है एसआईटी !
पुलिस-प्रशासन ने दी केस की धमकी, फिर भी चालू न हो सका राजगीर का रज्जू मार्ग
नीतिश के अहं को मिली बेलगाम IAS शासन की चुनौती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...