टीएन शेषण के निधन की उड़ी अफवाह, 2 केन्द्रीय मंत्री ने दे डाली श्रद्धांजलि  

Share Button

“केंद्रीय सूचना व प्रसारण और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जितेंद्र सिंह ने टीएन शेषन की मौत की अफवाह पर ट्वीट कर श्रद्धांजलि दे डाली।”

राजनामा.कॉम। भारत के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन के निधन की अवफाह के शिकार कई दिनों के भारत सरकार के दो बड़े मंत्री भी हो गए।

केंद्रीय सूचना व प्रसारण और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जितेंद्र सिंह ने टीएन शेषन की मौत की अफवाह पर ट्वीट कर श्रद्धांजलि दे डाली। हालांकि दोनों ने ट्वीट हटा लिए। स्मृति ईरानी ने जितेंद्र सिंह के ट्वीट को ही ट्वीट कर दुख जताया था।

जितेंद्र सिंह ने ट्वीट में लिखा- ”श्री टीएम शेषन का 6 अप्रैल को निधन हो गया। उनकी पत्नी का एक दिन पहले निधन हो गया था। उनके बच्चे नहीं हैं। एक ईमानदार कैबिनेट सचिव और बाद में मुख्य चुनाव आयुक्त रहकर उन्होंने कई मिसालें कायम कीं, कई तरह से यह एक युग का खत्म होना है।”

स्मृति ईरानी ने ट्वीट में लिखा- ”ओम शांति।”  बता दें कि 31 मार्च को टीएन शेषन की पत्नी जयलक्ष्मी शेषन का निधन हो गया था। लेकिन कुछ शरारती तत्वों ने सोशल मीडिया पर टीएन शेषन की मौत की अफवाह फैलाकर झूठी श्रद्धांजलि दे डाली।

बीते कुछ दिनों से शेषन अपनी अपनी पत्नी के साथ चेन्नई के एक वृद्धाश्रम में रह रहे थे। बीते साल 15 दिसंबर को वृद्धाश्रम में टीएन शेषन का 85वां जन्मदिन भी मनाया गया था।

पिछले दिनों सोशल मीडिया पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की अफवाहों ने भी जोर पकड़ा था।

बता दें कि टीएन शेषन 1955 बैच के आईएएस अधिकारी रहे हैं। वह 1990 से 1996 तक देश के मुख्य चुनाव आयुक्त भी रहे हैं। शेषन कठोर निर्णयों और कई सुधारों को लेकर जाने जाते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जयलक्ष्मी ने एक बार कहा था कि उनके पति हमेशा सच्चाई के साथ खड़े रहे। उन्होंने कहा था कि वह सच्चाई का साथ देने के लिए नौकरी और पत्नी तक को त्यागने के लिए तैयार थे।

टीएन शेषन की कोई संतान नहीं है। कहा जाता है कि इसी वजह से दोनों ने वृद्धाश्रम में रहने का फैसला किया था।

Share Button

Relate Newss:

वेशक चार आने की धनिया है “एशिया” के ये लफंगे पत्रकार
जर्नलिस्ट मोहनदीप ने Eurekha में लिखाः बाइसेक्शुअल हैं रेखा !
वर्ष 2006 में ही पकड़ाया था हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला
झारखंड में अब भाजपा का रघुवर'राज
खरसांवा की उपेक्षा और पत्नी की कमाई बनी अर्जुन मुंडा की हार का कारण
दैनिक जागरणः संपादक ने कहा तलवा चाटनेवाला तो रिपोर्टर ने कहा सबूत दिखाइए !
न्यूड वीडियो के जरिए पाकिस्तानी महिला जासूस ने फौजी को फंसाया
जेजेए ने पत्रकार हरी प्रकाश की मौत को लेकर डीजीपी को सौंपा ज्ञापन
kgbv के लेखापालों की हड़ताल 18 मार्च तक बताने के पीछे क्या है राज़ ?
......तो अब दारु छोड़ देंगे भड़ास वाले यशवंत !
नरेंद्र मोदी के नाम खुला खत
'यार की हार' का बदला यूं ले रहे हैं अंबानी-मोदी के नाथवानी!
दैनिक जागरण के फोटो जर्नलिस्ट के साथ मारपीट, ठेकेदार एसडीओ पर मुकदमा !
बिल्डर की दंबगई पर दैनिक भास्कर का "खेला"
नीतिश सरकारः मीडिया में महज चेहरा चमकाने पर फूंक डाले 500 करोड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...