जियो ब्रांड के जरिए 4जी सेवाएं देने के लिए तैयार है रिलायंस

Share Button

mulesh_relince_jioभारत की शीर्ष कंपनियों में शुमार रिलायंस इंडस्ट्रीज अपने नए जियो ब्रांड के जरिए जहां 4जी सेवाएं देने के लिए तैयार है, वहीं ये ब्रांड रिफाइनिंग से लेकर रिटेल तक से जुड़े इस ग्रुप के कॉरपोरेट कल्चर में भी अहम बदलाव लेकर आया है।

चेयरमैन मुकेश अंबानी सहित 17500 शीर्ष एक्जीक्यूटिव की मजबूत, फुल टाइम टीम के लिए अब न तो ऑफिस में केबिन हैं और न शीशे के दरवाजों वाले क्यूबिकल्स।

मुकेश अंबानी पुत्र आकाश अंबानी, पुत्री ईशा अंबानी और लंबे समय से सहयोगी तथा विश्वासपात्र मनोज मोदी सहित शीर्ष 70 लीडरों की टीम खुले ऑफिस में वर्क स्टेशनों पर काम कर रही है।

जियो से रिलायंस में आया नया कॉरपोरेट कल्चर रिलायंस के अधिकारियों के मुताबिक ये सब, कुछ महीने पहले मुकेश अंबानी द्वारा शेयर होल्डरों से जियो प्रोजेक्ट के बारे में कही गई ‘दुनिया की सबसे बड़ी परिवर्तनकारी, ग्रीन फील्ड डिजिटल पहल’ का हिस्सा है।

इस वर्क कल्चर की शुरुआत नवी मुंबई में रिलायंस कॉरपोरेट पार्क की ‘पीटी22 बिल्डिंग’ की 7वीं मंजिल पर हुई।

रिलायंस के अधिकारियों के मुताबिक ये सब, कुछ महीने पहले मुकेश अंबानी द्वारा शेयर होल्डरों से जियो प्रोजेक्ट के बारे में कही गई ‘दुनिया की सबसे बड़ी परिवर्तनकारी, ग्रीन फील्ड डिजिटल पहल’ का हिस्सा है।

जियो वेंचर के इस ऑफिस को अधिकारियों द्वारा ‘न दीवारें, न रुकावटें’ कहकर प्रचारित किया जा रहा है।

जियो वेंचर भारत में सबसे बड़ा स्टार्ट अप प्रोजेक्ट है जिसमें एक लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...