जद(यू) से बिहार के मंत्री और झारखंड के अध्यक्ष का इस्तीफा

Share Button
Read Time:3 Minute, 26 Second

Parveen-Amanullah बिहार की समाज कल्याण मंत्री अफजल परवीन अमानुल्लाह और झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष सह मंत्री राजा पीटर ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया है। राजा पीटर ने जहां प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दिया है, वहीं अफजल परवीन अमानुल्लाह ने  अपने  पद और पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। परवीन अमानुल्लाह ने कहा कि वो समाज सेवा को और बेहतर ढंग से काम करने के लिए अपने पद और पार्टी से इस्तीफा दिया है।

परवीन अमानुल्लाह ने अपना इस्तीफा   बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भेज दिया है। परवीन अमानुल्ला ने अपने पद और पार्टी से इस्तीफा देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि समाज सेवा और बेहतर ढंग से करने के लिए मैंने अपने पद से इस्तीफा दिया है।

raja piterएक प्रश्न  के जवाब में उन्होंने स्वीकारा कि जो सिस्टम है उसमें हम खुलकर काम नहीं पा रही थी। इसी कारण से मैंने अपने पद और पार्टी से इस्तीफा दिया है। परवीन ने साफ कहा कि सिस्टम में और बदलाव की आवश्यकता है। फिलहाल वे इस मामले पर कोई और प्रतिक्रिया देने से इंकार कर दिया, लेकिन कहा जा रहा है कि वो पिछले एक साल से नीतीश कुमार से नाराज चल रही थी।

नीतीश कुमार के साथ उनकी दूरी एक जमीन को लेकर हुई थी। पाटलिपुत्रा कॉलनी स्थित सरकारी भू खंड पर जद यू के ही एक दबंग विधायक अनंत सिंह का कब्जा था। मंत्री पद पर रहते हुए परवीन अमानुल्लाह ने इसका विरोध किया था। इसको लेकर दोनों आमने सामने हो गए थे। मामले के आगे बढ़ने पर मुख्यमंत्री को इस मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा था। इसके बाद मामला शांत हुआ था। लेकिन परवीन इस मामले को लेकर नाराज हो गई थी। कहा जा रहा है कि इसके बाद से ही इन दोनों के बीच दूरी बढ़ती चली गई। 

परवीन अमानुल्लाह ने 2010 में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थीं। परवीन अमानुल्लाह राजनीति में आने से पहले समाज सेवा से जुड़ी हुई थी। समाज सेवा से ही वे राजनीति में आई थीं, इसके बाद वे बांका विधान सभा से चुनाव लड़ी और जीतने के बाद सरकार में समाज कल्याण मंत्री बनी थी। उनके पति अफजल अमानुल्ला केंद्र सरकार में एक बड़े अधिकारी हैं। 

इधर झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष राजा पीटर के इस्तीफा देने के कारणों का सही से पता नहीं चल पाया पाया है। कहा जाता है कि उनके कुछ गतिविधियों से पार्टी के केन्द्रीय अध्यक्ष नाराज चल रहे थे।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

43 साल से सेक्स-टैक्स ले रही है अमेरिकी सरकार !
राहुल गांधी ने टटोली झारखंड में राजनीति की नब्ज
अगर साईज पता हो तो पाठकों को अंडरगार्मेंटस भी बांट दे अखबार
लालू ने दी अपने विधायकों को स्टिंग, अनुशंसा और भोग से बचने की नसीहत
पीएम के ‘मन की बात' के जवाब में राजद का ‘काम की बात' !
या खुदा! इन्हें दोजख भी नसीब न करना
दैनिक खबर मन्त्र कर्मी देवानंद साहू की सड़क दुर्घटना में मौत
मोनेट-जिंदल ज्वाइंट वेंचर को ‘मंदाकिनी’ और त्रिमुला को मिला ‘मेरल’ कोल ब्लॉक
धक्का देने के बाद हुई थी जयललिता की मौत: पी.एच. पंडियन
नहीं रहे दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमैन रमेशचंद्र अग्रवाल
अर्थव्यवस्था में नकदी भ्रष्टाचार और कालेधन का बड़ा स्रोत : पीएम मोदी
प्रिंट मीडिया के लिये यह है आत्म-चिंतन का समय
IAS एसोसिएशन के खिलाफ पटना हाई कोर्ट में जनहित याचिका
प्रेस क्लब रांची के नवांतुकों पर अतीत से सीख भविष्य संवारने की बड़ी जिम्मेवारी
वरिष्ठ पत्रकार डॉ. वैदिक ने पीएम मोदी को दी हार की बधाई
अपने ही मुल्क में दफ्न होती ज़िंदगियां ! और कितनी शहादत ?
क्या फर्जी है बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति!
नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार दिलीप पडगांवकर
kgbv के लेखापालों की हड़ताल 18 मार्च तक बताने के पीछे क्या है राज़ ?
खुद के संदेश में फंसे झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष
ऐसी नौटंकी से क्या दूर होगा बाल विवाह और दहेज की कुप्रथा !
आखिर कौन है धानुका हत्याकांड का शातिर भाजपा नेता ?
शुक्रिया रघु’राज, आपकी जय हो!
मंगनीलाल मंडल पर कार्रवाई, रामविलास पर क्यों नही !
सपा विधायक लक्ष्मी गौतम और पति के बीच सरेआम मारपीट !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...