चौधरी इंडेन ने ढूंढा जनता को परेशान करने का नयाब तरीका

Share Button

जनता का कार्य तेजी से हो, इसके लिए जगह जगह ऑनलाइन सेवा की व्यवस्था सरकार द्वारा लगातार की जा रही है. पर कामचोर और जनता को परेशान करने की कसम खा रखने वाले इसका भी तोड़ निकाल ही लेते हैं . कुछ ऐसा ही उदाहरण पेश किया जा रहा है इंडेन गैस वितरक चौधरी इंडेन गैस एजेंसी द्वारा.

chaudhary indaneउपरोक्त आरोप खाध एवं आपूर्ति निगरानी समिति के सदस्य एवं भाजपा के जिला मंत्री अशोक नायक ने स्वयम लगाया है . आमलोगों की शिकायते मिलने पर एक जिम्मेवार प्रतिनिधि के तौर पर रविवार को स्थिति का जायजा लेने को श्री नायक स्वयम एजेंसी पर पहुँचे तो लोगो की शिकायत को शत प्रतिशत सत्य पाया. दिन के 3 बजकर 5 मिनट पर एजेंसी पूरी तरह से बंद था तथा स्टाफ बाहर निकल घर जाने की तैयारी मे थे.

श्री नायक ने शिकायतों के बावत पूछा तो फिर वही रटा रटाया जवाब मिला – लिंक फेल है. इसपर उन्होने स्टाफ से कहा कि आपलोगो का कार्य अवधि शाम 6 बजे तक है और यहाँ गैस के लिए त्राहिमाम मचा हुआ है, ऐसे मे आपलोगो को ज्यादा सजग रहना चाहिए, पर आप उल्टे एजेंसी 3 बजे ही बंद कर दिये. तभी वहाँ खड़े उपभोक्ताओं ने भी आरोप लगाना शुरू कर दिया और हंगामे पर उतारू होने लगे.

श्री नायक ने लोगो को शांत किया तथा कर्मचारी को अपना परिचय देते हुए सिस्टम दिखा देने का अनुरोध किया एवं यदि वास्तव मे लिंक की समस्या है तो इसकी सूचना पट्टी लगा देने का भी अनुरोध किया. पर जनता के दर्द को समझते हुए सीधे एजेंसी बंद ना करें. परंतु लगातार शिकायतों के वावजूद इनके मालिक के ऊँची रसूख के कारण आजतक कोई कारवाई नही होने से बदमिजाज हो चुके कर्मचारी श्री नायक को भला – बुरा कहते हुए वहाँ से निकाल लिए.

अंततः नेताजी ने अपनी और उपभोकाताओ के शिकायतों को निगरानी समिति के अध्यक्ष सह सदर एसडीओ को बंद एजेंसी की तस्वीर एवं मामला त्वरित संज्ञान हेतु उनके व्हाट्सएप पर भेज दिया. परंतु अंधेर नगरी चौपट राजा की कहानी का रूपांतरण कार्यक्रम इस मामले मे जैसे पहले से चल रहा था, उसी मुताबिक इस शिकायत पर सादर एसडीओ की तरफ से एक जनप्रतिनिधि की शिकायत का भी कोई जवाब नही मिला. इससे अफसरशाही के स्तर का भी सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब एक जिम्मेवार प्रतिनिधि की शिकायत पर संबंधित अधिकारी की कोई प्रतिक्रिया नही मिली तो आमलोगो के प्रति उनकी सजगता स्वतः जगजाहिर हो जाती है.

…….दरभंगा से अभिषेक कुमार अपने फेसबुक वाल पर

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.