गलत रस्सी खींच गई महबूबा, श्रीनगर में फहराने से पहले नीचे गिर गया तिरंगा!

Share Button

श्रीनगर।  जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती जब स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा लहराने लगीं तो तिरंगा जमीन पर गिर गया. महबूबा मुफ़्ती इसके बाद सकपका गईं, क्योंकि आज पहली बार वह बक्शी स्टेडियम में बतौर मुख्यमंत्री तिरंगा फहरा रही थीं. उनकी सुरक्षा घेरे के सुरक्षाकर्मियों ने अफरातफरी में तिरंगा उठाया.

जब तक उन्होंने सैल्यूट लिया तब तक सुरक्षाकर्मियों ने झंडा अपने हाथों में रखा. जब महबूबा पैरामिलेट्री और पुलिस दल का मुआयना करने गई तब जल्दी-जल्दी झंडे को फहराया गया.

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी के राजेंद्र ने को बताया कि उन्होंने इस गड़बड़ी की जांच के आदेश दे दिए हैं. जल्द से जल्द पता लगाया जाएगा कि इसके लिए कौन जिम्मेदार है और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

इस वाकये के चलते पूरे बक्शी स्टेडीयम में सुरक्षाकर्मी काफी शर्मिंदा हो गए, क्योंकि बक्शी स्टेडियम में हर साल बंदोबस्त के लिए आर्म्ड पुलिस जो कि जम्मू कश्मीर पुलिस का हिस्सा है, वह जिम्मेदार होती है.

शायद गलत रस्सी खींची गई महबूबा

एक सुरक्षाकर्मी ने बताया कि जब ड्रेस रिहर्सल हुई तब सब ठीक था, लगता है या तो गलत रस्सी खींची गई या फिर मुख्य मंत्री ने ज़्यादा ज़ोर लगा दिया. एक सुरक्षा कर्मी ने बताया कि वैसे तिरंगे को लेकर घाटी में सभी बहुत संवेदना बरतते है लेकिन फिर भी इस तरह का हादसा हुआ वो भी मुख्य मंत्री जब झंडा लहरा रही थी.

इस मौके पर कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर मुफ्ती को निशाना बनाते हुए लिखा ‘श्रीनगर में तिरंगा फहराने के दौरान हुई गड़बड़ी के लिए अब मुफ्ती को किसी को जिम्मेदार ठहराना होगा क्योंकि उनकी गलती तो कभी होती ही नहीं है.’

Share Button

Relate Newss:

न्यूज वेब साइट पोर्टल को फर्जी कहने वाले की करें शिकायत, वे सीधे नपेगें
संगीता उर्फ धोबड़ी वाली ने खोला कई सफेदपोशों का राज
समाज सेवा पेशा से जुड़े हरिनारायण सिंह बन गये कथित द रांची प्रेस क्लब के उपाध्यक्ष !
भारत में बिना वेतन काम करेगें 'ग्रीनपीस इंडिया' कर्मी !
सुशासन बाबू के कुशासित नालंदा में यूं 'कैद' हुआ जमशेदपुर का टीवी रिपोर्टर
भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के खिलाफ उपवास पर बैठे नीतिश
WhatsApp, Facebook और Instagram सर्वर डाउन, फोटो-वीडियो नहीं हो रहे डाउनलोड
स्मृति ईरानी की शिक्षा लीक करने वाले 5 डीयूकर्मी निलंबित
मौलिक भारत ने डी एन डी टोल कंपनी पर लगाए अनेक गंभीर आरोप
बदल गई सोशल मीडिया, गूगल से फेसबुक तक जारी है बदलाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...