……और यूं सन्‍न रह गये बिहार के सीएम नीतीश कुमार

Share Button
Read Time:3 Minute, 14 Second

राजनामा.कॉम। ऐसी मुठभेड़ तो नीतीश कुमार ने कभी सोची न होगी । बड़े और धुर विरोधी राजनीतिक धाकड़ भी इस कदर दो टूक नहीं हो सकते । लेकिन पूनम खातून का कहना ही क्‍या । मासूमियत और सधे सवाल की खातिर सलाम कर रहा हूं पूनम को । स्‍वयं नीतीश कुमार भी निरुत्‍तर हो गये । बस मुस्‍कुराते रहे । जबर्दस्‍ती नहीं,मन से । कहना पड़ा कि जरुर देखेंगे ।

nitish (1)मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को पटना के ए एन सिन्‍हा इंस्‍टीच्‍यूट में पुस्‍तक विमोचन के समारोह में गये थे । तय कार्यक्रम के अनुसार कुछ छात्राओं को गुलदस्‍तां देकर नीतीश कुमार का अभिनंदन करना था । लेकिन अरविन्‍द महिला कालेज की छात्रा पूनम खातून ने इस मौके को बस औपचारिकताओं में नहीं जाने दिया । खूब तैयारी कर आई थी ।

गुलदस्‍ता दिया,फिर सीघे मुद्दे पर आ गई । कहा,जानती हूं आप मुझे नहीं पहचान रहे होंगे । लेकिन ऐसे भूल भी कैसे सकते हैं । सुनकर नीतीश कुमार अवाक् । वह बोले जा रही थी । देखिये,आपके साथ यह फोटो है मेरी । तब मैं छोटी थी । आप फारबिसगंज आाये थे । 2010 की यात्रा का स्‍मरण कराया पूनम ने । मैं कस्‍तूरबा बालिका स्‍कूल में पढ़ती थी । आप बोलकर गये थे कि स्‍कूल को प्‍लस टू कर देंगे,लेकिन अभी तक हुआ नहीं । आखिर क्‍यूं ।

पूनम की मासूमियत और बेबाकी से हतप्रभ नीतीश कुमार ने कहा कि पता कराता हूं । वह कुछ आगे बोलती,इसके पहले उन्‍हें कहना पड़ा कि कि सारे सवाल यहीं पूछ लोगी क्‍या । पूनम अब भी शांत नहीं हुई । कहा कि ठीक है । चलिये, आप मेरी पुरानी तस्‍वीर पर आटोग्राफ दे दें । आगे भूलेंगे,तो याद कराने में सहूलियत होगी । कहे अनुसार मुख्‍यमंत्री ने आटोग्राफ दिया । इसके बाद पूनम ने अपनी डायरी बढ़ाई और इस पर भी कुछ लिखने को कहा । नीतीश कुमार ने लिखा भी ।

पूनम की बेबाकी नीतीश कुमार के लिए अकस्‍मात् चौंकाने वाला,लेकिन सुखद अनुभव था । वे इससे खुश थे कि बिहार की बेटियां हक के लिए सीधा सवाल करने का साहस तो जुटाने लगीं हैं । वैसे भी पूनम का सवाल व्‍यक्तिगत नहीं, बल्कि समाज के भले के लिए था । खबर है कि समारोह से लौटते ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों को मुख्‍यमंत्री ने तुरंत कार्रवाई को आवश्‍यक दिशा निर्देश दिये हैं ।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

देवी की दिव्य माहवारी, हमारे लिए बीमारी !
झारखंड में भी लागू हो पत्रकार सुरक्षा कानून  : JJA
रिपोर्टर आरजू बख्स को इजलास नोटिश से नालंदा पुलिस का उभरा विकृत चेहरा
अब किस मुंह से फैसले सुनाओगे रजत शर्मा ?
दरभंगाः SBI ATM कांड मे बैंक व्यवस्था की खुली पोल
दैनिक हिंदुस्तान के जिलावार अवैध संस्करणों में सरकारी विज्ञापन पर रोक
अपनी धर्मपत्नी यशोदा के इंटरव्यू पर चुप हैं मोदी
रघु’राज एक सचः सुशासन का दंभ और नकारा पुलिस तंत्र
यहां होगी दो सौतन रानी के बीच चुनावी जंग
सुनिये ऑडियोः राजगीर थाना में बैठ इस शातिर ने पहले किया फोन, फिर किया राजनामा के संपादक पर फर्जी केस
कुख्यात टुल्लू सिंह ने फेसबुक पर जेल से डाली अंदर की तस्वीरें
ब्रजेश ठाकुर की राजदार 'मधु उर्फ शागुफ्ता' की इस कविता से खुले नये राज
सरकार और एनजीओ चलाने में फर्क होता है केजरीवाल जी
वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र पर FIR को लेकर फेसबुक पर कड़ा विरोध जारी
गोला गोली कांड : प्रशासन ने सर्पदंश व दुर्घटना को बताया मौत की वजह !
आपकी पार्टी भी कोई दूध की धूली नहीं है शरद यादव जी
मेरी लाश पर लागू होगा मोदी का कानून: ममता बनर्जी
चीफ जस्टिस के पत्र से शर्मशार हुई सरकार
खरमास के बाद भोंपू लेकर लालू बताएंगे भाजपा-आरएसएस का सच
अमित-मोदी के लिए डैंजर सिम्बल बन कर उभरे हैं लालू
पूर्व मध्य रेलवे में 'स्क्रैप घोटाले' की हो बिंदुवार जांच
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला केस में शोभना भरतिया पर सवा लाख रूपया हर्जाना
अपने-अपने 'औरा' को लेकर टकरा रहे हैं मोदी और प्रियंका !
मुंगेर के वयोवृद्ध स्तंत्रतासेनानी व पत्रकार काशी प्रसाद जी नहीं रहे
अब पुराने घर-दल कांग्रेस में वापस लौटेंगे तारिक अनवर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...