……और यूं सन्‍न रह गये बिहार के सीएम नीतीश कुमार

Share Button

राजनामा.कॉम। ऐसी मुठभेड़ तो नीतीश कुमार ने कभी सोची न होगी । बड़े और धुर विरोधी राजनीतिक धाकड़ भी इस कदर दो टूक नहीं हो सकते । लेकिन पूनम खातून का कहना ही क्‍या । मासूमियत और सधे सवाल की खातिर सलाम कर रहा हूं पूनम को । स्‍वयं नीतीश कुमार भी निरुत्‍तर हो गये । बस मुस्‍कुराते रहे । जबर्दस्‍ती नहीं,मन से । कहना पड़ा कि जरुर देखेंगे ।

nitish (1)मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को पटना के ए एन सिन्‍हा इंस्‍टीच्‍यूट में पुस्‍तक विमोचन के समारोह में गये थे । तय कार्यक्रम के अनुसार कुछ छात्राओं को गुलदस्‍तां देकर नीतीश कुमार का अभिनंदन करना था । लेकिन अरविन्‍द महिला कालेज की छात्रा पूनम खातून ने इस मौके को बस औपचारिकताओं में नहीं जाने दिया । खूब तैयारी कर आई थी ।

गुलदस्‍ता दिया,फिर सीघे मुद्दे पर आ गई । कहा,जानती हूं आप मुझे नहीं पहचान रहे होंगे । लेकिन ऐसे भूल भी कैसे सकते हैं । सुनकर नीतीश कुमार अवाक् । वह बोले जा रही थी । देखिये,आपके साथ यह फोटो है मेरी । तब मैं छोटी थी । आप फारबिसगंज आाये थे । 2010 की यात्रा का स्‍मरण कराया पूनम ने । मैं कस्‍तूरबा बालिका स्‍कूल में पढ़ती थी । आप बोलकर गये थे कि स्‍कूल को प्‍लस टू कर देंगे,लेकिन अभी तक हुआ नहीं । आखिर क्‍यूं ।

पूनम की मासूमियत और बेबाकी से हतप्रभ नीतीश कुमार ने कहा कि पता कराता हूं । वह कुछ आगे बोलती,इसके पहले उन्‍हें कहना पड़ा कि कि सारे सवाल यहीं पूछ लोगी क्‍या । पूनम अब भी शांत नहीं हुई । कहा कि ठीक है । चलिये, आप मेरी पुरानी तस्‍वीर पर आटोग्राफ दे दें । आगे भूलेंगे,तो याद कराने में सहूलियत होगी । कहे अनुसार मुख्‍यमंत्री ने आटोग्राफ दिया । इसके बाद पूनम ने अपनी डायरी बढ़ाई और इस पर भी कुछ लिखने को कहा । नीतीश कुमार ने लिखा भी ।

पूनम की बेबाकी नीतीश कुमार के लिए अकस्‍मात् चौंकाने वाला,लेकिन सुखद अनुभव था । वे इससे खुश थे कि बिहार की बेटियां हक के लिए सीधा सवाल करने का साहस तो जुटाने लगीं हैं । वैसे भी पूनम का सवाल व्‍यक्तिगत नहीं, बल्कि समाज के भले के लिए था । खबर है कि समारोह से लौटते ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों को मुख्‍यमंत्री ने तुरंत कार्रवाई को आवश्‍यक दिशा निर्देश दिये हैं ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...