…और इस कारण सोशल मीडिया पर क्रिकेट स्टार धोनी की हो रही थू-थू

Share Button
Read Time:4 Minute, 35 Second

एमएस धोनी ही आम्रपाली का ब्रांड एंबेडसर थे। आम्रपाली ग्रुप ने काफी पैसा धोनी और उनकी पत्नी को दिया। यह पैसा कई रूपों में दिया गया……..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। क्रिकेट स्टार महेंद्र सिंह धोनी और आम्रपाली ग्रुप के फ्राड मालिक अनिल शर्मा के बीच बहुत गहरे रिश्ते हैं। इनके अनैतिक रिश्तों की परत खुलती जा रही है।

आउटलुक की ताजा स्टोरी में बताया गया है कि आम्रपाली ग्रुप ने घर खरीदारों के पैसों को धोनी की पत्नी की कंपनियों में डायवर्ट कर दिया। यह खुलासा खुद आडिटर्स ने सुप्रीम कोर्ट को भेजी गई अपनी रिपोर्ट में किया है।

ज्ञात हो कि एमएस धोनी ही आम्रपाली का ब्रांड एंबेडसर थे। आम्रपाली ग्रुप ने काफी पैसा धोनी और उनकी पत्नी को दिया। यह पैसा कई रूपों में दिया गया। नगद, फ्लैट, कंपनी में निवेश, विदेशों में संपत्ति, फार्म हाउस, प्लाट आदि रूपों में धोनी को ये पैसे दिए गए।

बाद में जब आम्रपाली का फर्जीवाड़ा प्रकाश में आया और होम बायर्स ने धोनी को कोसना शुरू किया तो धोनी दिखावे के लिए आम्रपाली के ब्रांड अंबेसडर पद से हट गया और दिखावे के लिए ही आम्रपाली पर एक केस कर दिया।

लेकिन अब जब आडिटर्स ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी रिपोर्ट दे दी है तो यह स्पष्ट हो गया है कि आम्रपाली का काफी पैसा धोनी के पास पड़ा हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय को धोनी और उसकी पत्नी से गहन पूछताछ कर इन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

साथ ही इनकी सारी संपत्ति जब्त कर घर खरीदारों को उनका घर दिए जाने के प्रोजेक्ट में लगाना चाहिए। धोनी के ताजा कुकृत्य के खुलासे पर सोशल मीडिया पर भी इस आदमी की थू-थू हो रही है……

Prakash K Ray कितना धन है इस कंगाल देश में? इसको सेना में क्या, सदन में भी जाना चाहिए।

Chandra Bhushan पहले काला पैसा भगवान के खाते में जाता था। अब क्रिकेट के देवी-देवता इसके हकदार माने जाने लगे हैं।

Amitesh Kumar इनकी आईपीएल की टीम पर मैच फिक्सिंग के लिये बैन लगा था, उस पर एक जांच समिति बनी थी। उसके बारे में भी दबी जुबान से पत्रकार लोग बहुत कुछ कहते थे।

Prakash K Ray क़रीब दस साल पहले Pankaj Shukla सर ने बड़ी-बड़ी रिपोर्ट की थी, पर तब भाई का जलवा था, किसी ने कान नहीं दिया. होना-जाना तो अब भी कुछ नहीं है. वैसे अदालत ने ईडी को जाँच करने को कहा है.

AS Sudan This man Dhoni has lost all respect. shame on him and his family.

Mohammad Reyaz Ansari अब तो इसको पक्का बीजेपी के वाशिंग मशीन से होकर कर साफ होना पड़ेगा।

Aditya Kumar I am gradually believing that he might join BJP instead of Sena. That’s a very sad realisation. I must say.

Chandan Singh जल्द ही बीजेपी की सदस्यता लेकर बैकडोर से संसद में घुसेगा।

Faiz Azim Lag raha hai BJP join krenge dhoni bhai, “clear” hone ke liye.

Girish Malviya ज्यादातर धोनी भक्त मोदी भक्त ही मिलेंगे

Manu Jha हमें तो अपनो ने लूटा, ग़ैरों में कहा दम था. मेरी कश्ती भी वही डूबी जहाँ पानी भी कम था…. बाप बड़ा ना भैया सबसे बड़ा रुपया… ऐसे जगहों पर ऐसे ही फ़िल्मी शेर याद आते हैं… वैसे ताली दोनों हाथो से बराबर बजाई गयी है..

Saleem Ansari आईपीएल में फिक्सिंग में फंसे. 2 साल का बैन. सभी खिलाड़ी दूसरी टीम में सेट. 2 साल बाद टीम भी और खिलाड़ी भी वापस. फ़र्ज़ी टीम ग़ायब. धोनी पाक साफ हो गया.

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

इंडियन मुजाहिदीन का है दैनिक ‘प्रभात खबर’ से कनेक्शन !
बाजः इच्छा, सक्रियता और कल्पना की प्रेरणा
फेसबुक के बजाय जमीन पर काम करें मोदी : अखिलेश
हाय री नालंदा की मीडिया, भ्रष्ट्राचार के विस्फोटक न्यूज को यूं पचा गये!
विधायक अमित महतो ने फेसबुक पर निकाली जर्जर सड़क की खीज
दैनिक जागरण पर चुनाव आयुक्त ने दिया FIR दर्ज करने का निर्देश
इस बच्ची की कलम और पढ़ाई के प्रति ललक देख नम हो गई आँखें
समाज के लिए खतरा है ऐसे वेबसाइट-पत्रकार
पल्सर पल्सर पल्सर और पल्सर...
संदर्भ झारखंडः एक राजा था...
दैनिक लोकसत्य को जरूरत है मीडियाकर्मियों की
2018 देवर्षि नारद पत्रकारिता सम्मान, श्री चंदन कुमार मिश्र के नाम
बिहार चुनाव के एग्जिट पोल के नतीजे गलत साबित होने पर NDTV के चेयरमैन ने मांगी माफी
मीडिया मालिकों के कालाधन पर क्यों नहीं पड़ा छापा : आलोक मेहता  
पीटीआई और भाषा में हर साल करोड़ों का घपला !
शोभना भरतिया ने हिंदुस्तान टाइम्स को पांच हजार करोड़ में मुकेश अंबानी  को बेचा!
रांची प्रेस क्लब चुनावः क्या आप ऐसे लोगो को वोट देंगे? जो.....
देखिए आज तक की डिस्क्लेमर हद, रिजल्ट पूर्व नीतिश-मोदी के विजयी भाषण तक गढ़ डाले
संविधान में बराबरी और अलग प्रदेश की मांग को लेकर नेपाल में मधेसियों की उग्रता बरकरार
100 वर्षों से लग रहा है हैदरनगर में भूतों का मेला
राजनीतिक अतिवादियों से बच के रहें
'थर्ड वर्ल्ड वार' की ओर बढ़ रही है दुनिया
देश के 80% रोजगार के नाकाबिल हैं इंजीनियरिंग डिग्री धारी
पाकिस्तानी मीडिया की लीड खबर रही बिहार में नीतिश के हाथों मोदी की हार
दैनिक प्रभात खबर का अमन तिवारी क्राईम रिपोर्टर है या क्राईम मैनजर !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...