एनएचएआई ने सड़क किनारे बना रखा है मौत का गढ्ढा

Share Button

न कोई बोलता है और न कोई छापता है

nh33मुकेश भारतीय

रांची भगवान बिरसा जैविक उद्दान के पास जाने माने चर्चित व्यवसायी कमल सिंघानिया के  एनएचएआई ने टोयटा शो रुम के सामने मौत का गढ्ढा खोद रखा है। उस गढ्ढे में शो रुम का जहरीला गंदा पानी जमा होता है। यह एनएच 33 फोरलेन सड़क के इतने किनारे है कि इसमें कभी भी कोई फिसल कर गिर जाए। इसकी गहराई इतनी है कि कोई फोर व्हीलर वाहन भी गिरने के बाद पता न पाए।

इसमें एक स्थानीय युवक की मौत हो चुकी है। वह इस गढ्ढे में मोटरसाईकल साथ जा गिरा और जहरीले पानी और उसके नीचे बने दलदल में दब कर रह गया। उसके शव को बड़ी मशक्कत के बाद निकाला जा सका था।

हांलाकि, टोयटा शो रुम ने सड़क किनारे अपनी नाली बना रखा है लेकिन, वह उसका इस्तेमाल नहीं करता। उसका सारा कचरायुक्त गंदा पानी अंडरग्राउंड पाईप के जरिए विपरित दिशा में बने उसी गढ्ढा में जमा होता है। चूकि शो रुम के कमल सिंघानियां जैसे चर्चित हस्ती की है, अतएव इस संबंध में कोई कुछ भी बोलने की हिमाकत नहीं करता। 

इस बाबत एनएचआई के निदेशक मनोज पाण्डेय भी यह कह के टाल जाते हैं कि कुछ समस्याएं के समाधान लिए जन सहयोग की जरुरत होती है। जब उनसे पूछा जाता है कि जनसहयोग के पहले प्रशासनिक कार्रवाई कोई मायने रखती? इस पर वे चुप्पी साध जाते हैं।

यहां पर एनएच-33 का फोरलेनिंग भी निर्धरित मापदंड के अनुसार नहीं बनाया गया है। टोयटा शो रुम और उसके सामने वृंदावन-मधुवन होटल के बीच देखें तो महज खानापूर्ती कर छोड़ दिया गया है। लोग इसे डेंजर जोन मानते हैं। यहां छोटी-बड़ी वाहन दुर्घटनाएं आम बात हो गई है। कहते हैं कि इस जगह पर निर्माण कार्य के दौरान एनएचएआई के साथ बड़ी खींचतान और डीलिंग हुई है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.