उस महिला का गर्भपात की पुष्टि, कोडरमा घाटी में जिस अज्ञात महिला का मिला था शव

Share Button

कोडरमा (कुंतलेश)। कोडरमा थाना क्षेत्र अंतर्गत ताराघाटी में गत दिनों पाई गई अज्ञात महिला के शव के संबंध में एक नई बात सामने आयी है। मृतका के पोस्टमार्टम में पता चला है कि एक मौत के एक दिन पूर्व ही उसका गर्भपात कराया गया था।

वहीं उसके कलाई में इंजेक्शन के निशान भी पाए गए हैं। जिससे रक्त निकलता हुआ पाया गया है। इसके अलावे उसके हाथों में काफी खरोंच के निशान भी मिलें हैं। जिससे यह माना जा रहा है कि हत्या से पूर्व महिला ने अपने बचाव में काफी मशक्कत की होगी।

वहीं गर्भपात किए जाने से यह साफ है कि कहीं नजदीक के किसी क्लिनिक में महिला का गर्भपात कराने के बाद हत्या की गई होगी। महिला स्थिति को देखते हुए यह भी कहा जा रहा है कि महिला की हत्या एक नहीं, एक से अधिक लोगों द्वारा की गई होगी।

बताते चलें कि कोडरमा घाटी के ताराघाटी के निकट खाई में बुधवार को एक अज्ञात 30 वर्षीय महिला का शव बरामद होने से सनसनी फैल गई थी।

पोस्टमार्टम के बाद साफ हो गया है कि महिला की हत्या रस्सी या तार से गला दबाकर की गई है। यह भी बात सामने आयी है कि सुबह करीब 4 से 5 बजे के बीच महिला के शव को घाटी में फेंका गया था। महिला कौन है, किस कारण से उसकी हत्या हुई, इसका खुलासा अबतक नहीं हो सका है।

इस संबध में पुलिस झारखंड तथा बिहार के सभी थानों को इसकी सूचना दी है। लेकिन अबतक कहीं से भी कोई सुराग नहीं मिल सका है।

Share Button

Relate Newss:

सुदर्शन टीवी न्यूज चैनल के मालिक ने इस तरह चलाई थी झूठी संप्रदायिक खबर
उषा मार्टिन एकेडमी प्रबंधन के खिलाफ 420 का मुकदमा
भोजपूरिया बिहारी का चंपारण कोलाज
'भारत रत्‍न' हो गए प्रो. राव और सचिन तेंदुलकर
वेशक चार आने की धनिया है “एशिया” के ये लफंगे पत्रकार
बिना IT Act ज्ञान के पत्रकार के खिलाफ धुर्वा थाना प्रभारी की चल रही यूं अनुसंधान !
राजनीतिक प्रदूषण के बावजूद कांग्रेस और भाजपा में ही टक्कर
फेसबुक पर अनजान हसीना की मायाजाल में फंसा युवक
हिन्दी के ही एफएम चैनल कर रहे हैं हिन्दी का बेड़ा गर्क :राहुल देव
'द इकोनॉमिस्ट' ने लिखा- 'वन मैन बैंड' हैं मोदी !
प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर का राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि को लेकर ऐतिहासिक आदेश
यहां आंचलिक पत्रकारिता और चुनौतियां विषयक कार्यशाला में उभरे ये सच
फोर्ब्स मैंगजीन की 1000 ताकतवर लोगों की सूची में 9 वें स्थान पर पहुंचे मोदी
बिहार डीजीपी को पत्रकार प्रेस मेंस यूनियन ने सौंपा अहम ज्ञापन, मिला भरोसा
क्या फर्जी है बिहार विधान सभा की प्रेस सलाहकार समिति!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...