ई BJP MLA विनय बिहारी की गांधीगिरी है या मीडियाई नौटंकी

Share Button

पटना। बिहार सरकार में पूर्व मंत्री और वर्तमान में लौरिया से विधायक और भोजपुरी गानों के जाने माने लेखक अर्धनग्न घूम रहे हैं? देखने वाले आश्चर्य चकित हैं कि उन्हें हो क्या गया है? हालांकि इस माननीय विधायाक की गांधीगिरी मीडिया के दफ्तरों तक ही अधिक सीमित दिखता है। वे खाकी हाफ पैंट और सफेद बनियान पहन मीडिया के दफ्तरों और पत्रकारों के साथ अपना फोटो वायरल कर रहे ये विधायक हैं विनय बिहारी।

सबाल उठता है कि बिहार सरकार में पूर्व मंत्री और वर्तमान में लौरिया से विधायक और भोजपुरी गानों के जाने माने लेखक आखिर क्यों अर्धनग्न घूम रहे हैं? इस पर खुद उनका कहना है कि वे अब कुर्ता-पायजामा और शर्ट-पैंट तब तक नहीं पहनेंगे जबतक उनके विधानसभा क्षेत्र की सड़कें नहीं बन जातीं।

bjp-mla-vinay-bihariगडकरी को दिया कुर्ता, नीतीश को पायजामा

विनय बिहारी पिछले तीन साल से पश्चिम चम्पारण जिले के मनुआपुल से योगापट्टी होते हुए नवलपुर रतवल चौक जाने वाली सड़क को बनवाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। अपने क्षेत्र के इस जर्जर सड़क को बनवाने के लिए विनय ने पथ निर्माण विभाग के मंत्री तेजस्वी यादव, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय सड़क मंत्री नितिन गडकरी तक को पत्र लिखा, लेकिन सड़क नहीं बनी।

अनोखा है विरोध करने का तरीका

सड़क न बनने से परेशान विधायक ने अनोखे ढंग से विरोध करने का फैसला किया। उन्होंने पत्र के साथ अपना कुर्ता नितिन गडकरी को दिया। पत्र में विनय ने लिखा कि यह कुर्ता भारतीय जनता पार्टी के विधायक का नहीं बल्कि भाजपा के मान, सम्मान और प्रतिष्ठा का है। हमारी सड़क का निर्माण कार्य जब शुरू हो जाएगा तब मैं स्वयं इसे ससम्मान आपसे वापस प्राप्त कर लूंगा।

पैजामा देकर नीतीश को याद दिलाया वादा

कुर्ता गडकरी को देने के बाद विनय ने पैजामा नीतीश को दिया। इसके साथ दिए पत्र में विनय ने लिखा कि यह पैजामा एक विधायक का नहीं बल्कि आपके विकास और सुशासन का है। कुर्ता तो मैंने भारत सरकार के पथ निर्माण मंत्री को दे दिया है। पैजामा आपको दे रहा हूं। यह पैजामा आपको अपने किए हुए वायदों की याद दिलाता रहेगा। अब इन कपड़ों को पुन: मैं तभी धारण करूंगा जब हमारे सड़क का निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

नीतीश ने किया था इस सड़क को स्टेट हाईवे बनाने का वादा

नितिन गडकरी को दिए गए पत्र में विनय ने लिखा है कि 26 नवंबर 2013 को नीतीश ने लगभग डेढ़ लाख की भीड़ के सामने इस सड़क को स्टेट हाईवे बनवाने का वादा किया था। लेकिन जैसे ही लोकसभा में बीजेपी की जीत हुई, उनका नजरिया बदल गया और यहां अबतक सड़क का निर्माण नहीं हुआ है।

 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *