‘इंडियाज़ डॉटर’ से रोक हटे : एडिटर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया

Share Button

एडिटर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया ने भारत सरकार से दिसंबर 2012 में हुए दिल्ली सामूहिक बलात्कार पर बनी डॉक्यूमेंट्री ‘इंडियाज़ डॉटर’ पर लगी रोक हटाने की अपील की है। इस डाक्यूमेंट्री का प्रसारण ब्रिटेन में बीबीसी फ़ोर चैनल पर चार मार्च को हुआ था।

editor gildsलेज़्ली उडविन की डॉक्यूमेंट्री ‘इंडियाज़ डॉटर’ में दिल्ली सामूहिक बलात्कार के दोषियों में से एक मुकेश सिंह का इंटरव्यू दिखाया गया है। यह इंटरव्यू दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल के भीतर किया था।

सरकार के फ़ैसले पर एडिटर्स गिल्ड ने कहा है कि डॉक्यूमेंट्री पर लगी रोक पूरी तरह से ग़लत है।  गिल्ड की तरफ़ से जारी किए गए एक बयान में कहा गया है, “डॉक्यूमेंट्री में बलात्कार पीड़ित युवती के परिवार की उदार दृष्टि, संवेदनशीलता और साहस को दिखाया गया है।”

गिल्ड के मुताबिक़ यह कहना भी ग़लत है कि यह विषय अदालत के पास विचाराधीन है और दोषी करार दिए गए लोग इस फ़िल्म का इस्तेमाल अपने हित में कर लेंगे या पीड़िता के माता-पिता की संवेदनशीलता पर चोट कर सकता है।

गिल्ड ने कहा है कि डॉक्यूमेंट्री पर लगी रोक हटाने से लोग इसके सकारात्मक पहलुओं को भी समझ सकेंगे।

Share Button

Relate Newss:

इस तरह के भूल से क्यों नहीं बच पा रहा है दैनिक भास्कर   
डॉ. नीलम महेंद्र को मिला अटल पत्रकारिता सम्मान
देश में जल्द शुरु होगी ई-वारंटी :रामविलास पासवान
अर्नब गोस्वामी ने Republic पर ABP के रिपोर्टर जैनेन्द्र को प्राइम टाईम में यूं गुंडा दिखाया
श्रीराम पर केस के बाद अब उनके भक्त हनुमान को भेजा नोटिस
रांची निर्भया कांड की गुत्थी सुलझाने में राज्य-तंत्र विफल, अब सीबीआई करेगी जांच
ओम थानवी बने केजरीवाल सरकार विज्ञापन निरानी समिति के अध्यक्ष
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला केस में शोभना भरतिया पर सवा लाख रूपया हर्जाना
बाबूलाल मरांडी  ने खुद खोल ली अपनी राजनीति की कलई !
बच्चे फेल नहीं हुए, आपका सिस्टम फेल हुआ साहब
अमित शाह चुनेगें गुजरात का सीएम
रांची प्रेस क्लब में शादी का आयोजन कमिटी का फैसला  : सचिव
बचिये ऐसे विज्ञापनों से, हमें मूर्ख बना रहे हैं ये
पत्रकारिता-समाज सेवा सीखनी हो तो मुजफ्फरपुर में आनंद दत्ता से सीखिए !
मंगनीलाल मंडल पर कार्रवाई, रामविलास पर क्यों नही !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...