आस्था के साथ इंदौर की मीडिया का यूं खिलवाड़ !

Share Button

इंदौर के अखबारों में प्रकाशित मुस्लिम महिलाओं द्वारा कांवड़ लाने की सबसे बड़ी खबर की सच्चाई जानकर आप दांतों तले ऊँगली दवा जायेंगे।

media_indoreइस कांवड़ यात्रा का संचालन एक स्थानीय मुस्लिम महिला के सहयोग से किया गया जिसमें मुस्लिम महिलाओं को एक एक लाख का लोन मुख्यमंत्री से स्वीकृत कराने का अस्वाशन एवं राशन कार्ड बनाये जाने के लिए मुख्यमंत्री से मुलाकात के नाम पर किया गया था। लेकिन शाम होते होते पूरी खबर की सच्चाई सामने आ गई है।

यह खबर भी ठीक उसी तरह की है, जिस तरह पिछले दिनों आगरा में धर्मांतरण के नाम पर हिन्दू बनाने की घटना सामने आई थी। उसमें भी राशन कार्ड के प्रलोभन पर उसे भी आयोजित किया गया था और जबरदस्ती हवन कुन्ड के पास लाकर बिठा दिया था।

खबर के मुताबिक बीजेपी नेत्री फिरदौस खान इन सब महिलाओं को जिला कलक्टर और मुख्यमंत्री से लोन और राशन कार्ड के लिए मिलने के नाम पर लेकर आयीं थीं।

मुस्लिम महिला ताहिरा ने एक अख़बार को बताया की हमें लोन और राशन कार्ड दिया जायेगा यह कहकर बुलाया गया था।

इस ख़बर को दैनिक भास्कर ने क्यों नहीँ प्रकशित किया यह प्रश्न ताहिरा सभी पत्रकारों से पूछ रही थी।

जिस तरह से इस आयोजन में मुस्लिम भावनाओं का राजनीती चमकने के लिए प्रयोग किया गया था बो सफल होते होते शाम तक साफ़ हो गया कि यह आयोजन किस तरह से प्रायोजित किया गया था।

इस आयोजन में कई मोहल्लों से बसों में भरकर भीड़ लाइ गई थी। साथ ही हिन्दू महिलाओं को भी साड़ी देने के नाम पर बुलाया गया था। भागीरथपुरा से उन्हें पांच बसों में भरकर लाया गया था। उन्हें साड़ी मिली लेकिन, तपती धुप में बहुत ही परेशानी उठानी पड़ी। (साभारः फेसबुक पर वायरल पोस्ट )

Share Button

Relate Newss:

रांची पुलिस की पेट्रोलिंग पार्टी ने ही लूट लिये 70 लाख, 6 सस्पेंड, गये जेल
अर्नब गोस्वामी पर 500 करोड़ के मानहानि का दावा
हमारे पूर्व राष्ट्रपति कलाम का शिलांग के अस्पताल में निधन !
सृजन महाघोटालाः सीबीआई की रडार पर नेताओं,अफसरों के साथ पत्रकार भी
जमशेदपुर में पकड़ाया बांग्लादेशी आतंकी महमूद !
SCRB कार्यशाला सह प्रशिक्षण कार्यक्रम में देखिए कितनी गंभीर हैं पुलिस
प्रबंधन के निर्देश पर दैनिक जागरण के सारे संपादक भूमिगत!
सीएम ने कहा- ए भागो..मीडिया वाले सब भागो, सब निकल गये, लेकिन दुबके रहे दो बड़े वेशर्म पत्रकार
बंद हो मीडिया में राजनीतिक दलों और कॉरपोरेट घरानों का प्रवेश: TRAI
वेशक चार आने की धनिया है “एशिया” के ये लफंगे पत्रकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...