आलोक श्रीवास्तव को ‘राष्ट्रीय दुष्यंत कुमार अलंकरण’ सम्मान

Share Button
Read Time:1 Minute, 20 Second

जाने-माने युवा कवि, लेखक और टीवी पत्रकार आलोक श्रीवास्तव को साल 2014 के ‘राष्ट्रीय दुष्यंत कुमार अलंकरण’ से सम्मानित किया जाएगा।

alok-srivastavaदुष्यंत कुमार स्मारक पाण्डुलिपि संग्रहालय, भोपाल की ओर से हर साल दिए जाने वाले इस प्रतिष्ठित अलंकरण की घोषणा 17 मार्च को भोपाल में की गई।

साल 1998 में राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित यह अलंकरण पहली बार दुष्यंत के ही तेवर के शायर अदम गोंडवी को दिया गया था।

तब से अब तक अनेक ख्यातनाम साहित्यकारों को यह प्रतिष्ठित अलंकरण दिया जा चुका है, जिनमें डॉ. ज्ञान चतुर्वेदी, लीलाधर मंडलोई, निदा फाज़ली, अशोक चक्रधर, चित्रा मुद्गल, राजेश जोशी, मृणाल पाण्डेय और मृदुला गर्ग के नाम प्रमुख हैं।

‘राष्ट्रीय दुष्यंत कुमार अलंकरण’ पाने वालों में आलोक श्रीवास्तव सबसे कम उम्र के रचनाकार हैं।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

सुनिये दैनिक प्रातः कमल रिपोर्टर की गुंडई, गाली-गलौज के बाद दी जान मारने की धमकी
रघु’राज में मीडिया पर अंकुश, केवल फोटोग्राफ कवर करने के निर्देश
बिहार पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष निर्मल सिंह शराब पीते धराये, गये जेल
राजगीर में अराजकता, पार्श्व नाथ की मूर्ति तोड़ा
संविधान में बराबरी और अलग प्रदेश की मांग को लेकर नेपाल में मधेसियों की उग्रता बरकरार
स्वाभिमान रैलीः गांव-गरीब पर लालू की पकड़ बरकरार
'इंडियाज डॉटर' के जबाव में 'युनाइटेड किंग्डम्स डॉटर'
मनमानी और दलालों का अड्डा है कोडरमा रेलवे स्टेशन !
जस्टिस डीएन उपाध्याय बने झारखंड लोकायुक्त
नहीं भुलाए जा सकते महापुरुष कलाम के ये 10 अनमोल बचन
सुशासन बाबू के गांव के सामने राजगीर पैसेंजर ट्रेन में गोलाबारी, एक की मौत
सरेआम क्लीनिक खोल कर यूं शोषण कर रहे हैं झोलाछाप
वरिष्ठ पत्रकार रजनीश कुमार झा संग एक ‘गुंडा छाप’ ने की गाली-गलौज, दी सरेआम जान मारने की धमकी
अरुण जेटली पर लगे आरोपों से अंदर तक आहत हैं इंडिया टीवी के रजत शर्मा !
हाय री नालंदा की मीडिया, भ्रष्ट्राचार के विस्फोटक न्यूज को यूं पचा गये!
न्यूज वेब साइट पोर्टल को फर्जी कहने वाले की करें शिकायत, वे सीधे नपेगें
नोटबंदी को लेकर नीतिश से आगे निकली ममता
बढ़ी एफडीआई से प्रिंट मालिक मायूस, वहीं न्‍यूज ब्रॉडकास्‍टर्स गदगद
हिन्दुस्तान रिपोर्टर पर हमला, हुआ काउंटर केस, खतरे में आंचलिक पत्रकारिता
पत्रकार नहीं, प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष है पंकज मिश्रा,पत्रकारिता नहीं है गोली मारने की वजह
चोर-पुलिस के आतंक से त्रस्त हैं नालंदा के चंडी का रामघाट बाजार
NDA जीती तो प्रेम कमार होगें भाजपा के CM
रघुवर सरकार में मंत्री बने शमरेश सिंह के बौराये 'बाउरी ' !
डॉ. नीलम महेंद्र को मिला अटल पत्रकारिता सम्मान
ममता बनर्जी संग लंदन गये भारतीय पत्रकारों ने चुराई चांदी के चम्मच, 50 पौंड जुर्माना दे छूटे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...