आर्गेनाइजर ने लिखा, हिंदू विरोधी हैं FTII प्रदर्शनकारी छात्र !

Share Button

FTII-protest-GAJENDRA (2) FTII-protest-GAJENDRA (3) FTII-protest-GAJENDRA (5) FTII-protest-GAJENDRA (1)अभिनेता गजेन्द्र चौहान के एफटीआईआई का अध्यक्ष बनने के खिलाफ जारी प्रदर्शन के बीच आरएसएस के मुखपत्र ‘ऑर्गनाइजर’ के एक लेख में प्रदर्शनकारी छात्रों को ‘हिंदू विरोधी’ बताया गया है और प्रदर्शन के पीछे ‘षड्यंत्र’ की बात कही गई है।

‘ऑर्गनाइजर’ के एक लेख में लिखा गया है, ‘सरकार ने जैसे ही गजेन्द्र चौहान को नियुक्त किया तो हिंदू विरोधी तत्व जो कर सकते थे वह करने लगे। उन्होंने संचालन परिषद् के नवनियुक्त अध्यक्ष के खिलाफ विरोध शुरु कर दिया।’

इस लेख में लिखा गया है, ‘संस्थान के तथाकथित शुभेच्छुओं को इनसे कोई फर्क नहीं पडा है क्योंकि उनका हित संस्थान और छात्रों की बेहतरी में नहीं है बल्कि हिंदू विरोधी दुष्प्रचार को बढ़ाने में है।’

लेख में कुछ फिल्म निर्माताओं को भी ‘हिंदू विरोधी’ करार दिया और कहा कि इस सूची में राजकुमार हिरानी भी हैं जो ‘पीके’ के निर्देशक हैं और हिंदुओं की नकारात्मक छवि पेश करते हैं। हिरानी भी पुणे स्थित भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान के बोर्ड में थे।

Share Button

Relate Newss:

मुखपत्र नहीं, मूर्खपत्र है संघ का ऑर्गेनाइजरः शिवसेना
हिंदी पत्रकारिता दिवस: बिहार में साहित्यिक पत्रकारिता का विकास
कमीशन के खेल में फंसी रांची की मेयर आशा लकड़ा
पुलिस-प्रशासन ने दी केस की धमकी, फिर भी चालू न हो सका राजगीर का रज्जू मार्ग
बिहार डीजीपी से सीधी बात के बाद पीड़ित पत्रकार ने यूं तोड़ा आमरण अनशन
NDTV के खिलाफ हुई  एमरजेंसी जैसी कार्रवाई :एडिटर्स गिल्ड
रैली में BJP नेता ने मंच पर बांटे 500 के बंद नोट,वीडियो हुआ वायरल
इधर आमरण अनशन पर बैठे पत्रकार की हालत बिगड़ी, उधर राजनीति करने में जुटी पुलिस-संगठन
मध्य प्रदेश में पत्रकार की अपहरण के बाद हत्या !
'द इकोनॉमिस्ट' ने लिखा- 'वन मैन बैंड' हैं मोदी !
स्टेट 10टॉपर्स में गरीबी को चीरती शामिल हुईं जुलिया मिंज
टीवी चैनल वालों के काले कारोबार पर पूण्य प्रसून वाजपेयी की नज़र
वरिष्ठ पत्रकार अरुण साथी सड़क हादसे में गंभीर रूप से जख्मी
16 टन का भार दांतो से खींचने वाले राजेन्द्र ने दी खुली चुनौती
राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि अतिक्रमण मामले में प्रशासन के साथ न्यायालय भी कटघरे में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...