आदिवासियों की हत्या करवा रही है रमण सरकार

Share Button

raman_singhआदिवासियों की ज़मीनों को छीन कर बड़े उद्योगपतियों को देने के लिए छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार आदिवासियों को डराने के लिए आदिवासियों की हत्या करवा रही है।

आदिवासी महिलाओं से पुलिस भेज कर बलात्कार करवा रही है। निर्दोष युवकों को फर्ज़ी मुकदमे बना कर जेलों में ठूंस रही है।

chattisgarh_adiwasiइन सब सरकारी क्रूरता के विरुद्ध आदिवासियों ने सत्याग्रह शुरू किया है। एक सप्ताह से चल रहे धरने को तोंगपाल से सुकमा जिला मुख्यालय में ले जाने का निर्णय लिया गया।  साठ किलोमीटर लंबा सफर पैदल ही करने का निर्णय लिया गया।

कल रात दस हज़ार से ज़्यादा आदिवासी महिलायें बुज़ुर्ग बच्चे तीस किलोमीटर पैदल चल कर कूकानार गाँव के पास रात को जंगल में सोये।

chattisgarhआज सुबह आदिवासियों का मार्च फिर से शुरू हुआ है। इस पूरे अहिंसक संघर्ष में सोनी सोरी आदिवासियों के साथ है। आदिवासियों के इस अहिंसक संघर्ष से घबराई हुई भाजपा सरकार धमकियों पर उतर आयी है।

पुलिस अधिकारियों ने आदिवासियों को धमकी दी है कि अगर तुम आदिवासी लोग यह रैली करोगे तो पुलिस तुम्हारे गांव में आकर आदिवासियों के पूरे गाँव को जला देगी।

….अपने फेसबुक वाल पर वरिष्ठ पत्रकार अखिलेश अखिल

Share Button

Relate Newss:

कोर्ट के आदेश से नीलाम होगी पी7 न्यूज चैनल !
डिजीटल ‘वायर' में फंसे भाजपा के 'शाह'
मुश्किलें में पूर्व पीएम, जेटली ने कहा-ईमानदार हैं मनमोहन
ऐसा क्यों करते हैं अम्बेडकरनगर नगर PRDA के मिश्र और खान
इमरजेंसी के कारण जिंदा रह गया फिल्म शोले का गब्बरः जावेद अख़्तर
नई दिल्ली डीएवीपी और पटना सूचना जनसम्पर्क विभाग के अफसर अरेस्ट होंगे!
जनता बनाम मीडिया के बीच है इस बार का चुनाव!
टीवी एंकर तनु शर्मा मामले पर चुप क्यों है भारतीय मीडिया
झुमरी तिलैया में बनेगा झारखंड का पहला ग्राम न्यायालय
खोखला है मोदी का 56 ईंच का सीनाः सोनिया
नालंदा से दो भ्रष्ट अफसर पकड़ पटना ले गये निगरानी वाले
41 साल से 1 रूपये 04 पैसे की रखवाली में एबीसी को छूट रहे पसीने !
धन्य है बिहार के नेता... धन्य है बिहार के पत्रकार...
प्रेम-प्रसंग में हुई भीलवाड़ा के पत्रकार की हत्या, प्रेमिका धराई 
बिहार में भाजपा की हार को लेकर पांचजन्य ने लिखा- देश में खौफ का महौल बना रही है मीडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...