अब पुराने घर-दल कांग्रेस में वापस लौटेंगे तारिक अनवर

Share Button

वर्ष 1976 से 1981 तक वो बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष रहे। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। 1982 में उन्हें भारतीय युवा कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया जिस पद पर वह 1985 तक रहे। 1988 से 1989 तक तारिक अनवर बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटि के अध्यक्ष रहे……….”

राजनामा.कॉम (विनायक विजेता)। लोकसभा और राकांपा से इस्तीफा देने वाले कटिहार के सांसद तारिक अनवर जल्द ही अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस में शामिल होंगे। शनिवार को खुद तारिक अनवर ने यह संकेत दिया। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अभी वह इस विषय पर अपने शुभचिन्तकों और समर्थको से राय ले रहे हैं।

जब उनसे यह सवाल किया कि ‘क्या आप अपनी पुरानी पार्टी यानी कांग्रेस में फिर से लौटेंगे?’ तो तारिक अनवर ने जवाब दिया कि ‘क्यों नहीं लौट सकता! कांग्रेस हमारी पुरानी पार्टी रही है।

इस पार्टी के साथ जुड़कर ही मैंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की थी।’ कभी कांग्रेस के कोषाध्यक्ष सीताराम केसरी के काफी विश्वस्त माने जाने वाले तारिक अनवर की सक्रिय राजनीति की शुरुआत 1976 में कांग्रेस से ही हुई थी।

1999 में कटिहार से सांसद रहते हुए उनका सोनिया गांधी से किसी मुद्दे को लेकर मतभेद हो गया, तब उन्हें कांग्रेस मुख्यालय, दिल्ली के दूसरे सबसे शक्तिशाली व्यक्ति के रुप में जाना जाता था।

1999 में ही उन्होंने शरद पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली और महाराष्ट्र से इस पार्टी से वो दो बार राज्यसभा सदस्य और एक बार केन्द्र में खाद्य-प्रसंस्करण मंत्री भी रहे।

2014 में वह कटिहार संसदीय क्षेत्र से दूसरी बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए औरवतमान में राकांपा के राष्ट्रीय महासचिव भी थे। राफेल सौदे पर अपनी पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार द्वारा मोदी और भाजपा का पक्ष लेने से क्षुब्ध तारिक अनवर ने दो दिन पूर्व जहां राकांपा एवं विशुद्ध राजनीतिक धर्म का पालन करते हुए लोकसभा से भी इस्तीफा दे दिया।

तारिक अनवर का बचपन पूर्ववर्ती गया जिला के अरवल (अब संपूर्ण जिला) में स्थित अपने ननिहाल में बीता था। तारिक अनवर के कांग्रेस में ज्वाईन करने के प्रबल संभावना के बाद सीमांचल क्षेत्र में एक बार फिर से कांग्रेस व महागठबंधन के समीकरण में सुदृढ़ता आ सकती है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...