अंतरिम रेल बजट-2014: न किराया बढ़ेगा, न घटेगा

Share Button

लोकसभा में रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खडगे ने हंगामे के बीच अंतरिम रेल बजट 2014-15 पेश किया. यह बजट चार महीने के लिए ही होगा. रेल मंत्री ने यात्री किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं की है। खडगे ने 17 प्रीमियम, 38 एक्सप्रेस, 10 पैसेंजर, 4 मेमू और 3 नई डेमू ट्रेनों का ऐलान किया है।

rail ministerखडगे को लोकसभा में तेलंगाना मुद्दे पर जबर्दस्‍त हंगामे का सामना करना पड़ा। हंगामे के चलते से मंत्री जी पूरा बजट नहीं पढ़ सके और लोकसभा कल तक के लिए स्‍थगित कर दी गई।

यह उनका प्रथम और वर्तमान संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार का आखिरी रेल बजट है। तेलंगाना मुद्दे पर लोकसभा में हंगामे के बीच खड़गे ने किराया तय करने के लिए एक नया निकाय बनाने का वादा किया और कहा कि पूर्वी तथा पश्चिमी माल ढुलाई गलियारे पर काम अच्छी तरह से चल रहा है।

रेल मंत्री ने कुल मिलाकर 14 मिनट में अपने अंतरिम बजट भाषण का एक हिस्सा पढ़ा और उसके बाद अंतरिम रेल बजट तथा संबंधित दस्तावेजों को सदन के पटल पर रख दिया। उन्होंने 72 नई रेलगाड़ियां शुरू करने की घोषणा की, जिसमें शामिल होंगी। 17 प्रीमियम रेलगाड़ियां, 38 एक्सप्रेस रेलगाड़ियां, 10 पैसेंजर रेलगाड़ियां, चार उपनगरीय रेल सेवा और तीन मध्य दूरी की अंतरशहरी डीजल लोकोमोटिव।

उन्होंने कहा कि वित्तीय कठिनाइयों के बाद भी वर्तमान कारोबारी साल के लक्ष्य पूरे हो गए। उन्होंने कहा कि अगले कारोबारी साल में अरुणाचल प्रदेश और मेघालय को रेल नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। अंतरिम रेल बजट में माल ढुलाई का लक्ष्य आगामी कारोबारी साल में 110 करोड़ टन रखा गया है, जो वर्तमान कारोबारी साल के संशोधित लक्ष्य से 4.97 करोड़ टन अधिक है।

विद्युतीकरण के मामले में वर्तमान कारोबारी साल में 4,500 किलोमीटर मार्ग के लक्ष्य की जगह 4,556 किलोमीटर मार्ग का विद्युतीकरण पूरा हुआ। गेज दोहरीकरण भी 2,000 किलोमीटर के लक्ष्य की जगह 2,227 किलोमीटर पूरा हुआ. ऊधमपुर-कटरा खंड पर सेवा जल्द शुरू होगी। इस सेवा से यात्री वैष्णो देवी के अधिकतम निकट तक पहुंच सकेंगे।

उन्होंने कहा कि तीन नए कारखाने 2013-14 में शुरू हुए। ये हैं बिहार के छपरा जिले में रेल पहिया संयंत्र, उत्तर प्रदेश के रायबरेली में रेल कोच कारखाना और पश्चिम बंगाल के डानकुनी में डीजल कंपोनेंट कारखाना। सुरक्षा के बारे में मंत्री ने कहा कि एक भी मानव रहित रेल फाटक शेष नहीं रहा।

आपके लिए ये है खासः   

– यात्री किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई।

– ऊधमपुर-कटरा खंड पर सेवा जल्द शुरू होगी।

– 72 नई ट्रेनें चलाने का ऐलान, 17 प्रीमियम, 38 एक्सप्रेस ट्रेनें चलेंगी।

– 12 वीं योजना के दौरान रेल की संरचना में सुधार का लक्ष्य।

– चुनिंदा मार्गों पर 160 से 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार के लिए कम लागत वाले विकल्पों की खोज।

– 2500 सवारी डिब्बों में जैव शौचालय की व्यवस्था पूरी, इन्हें और बढ़ाया जाएगा।

– ट्रेनों की सही स्थिति तथा उनके चालन का पता लगाने के लिए ऑनलाइन ट्रैकिंग की व्यवस्था होगी।

– आग की घटनाओं को रोकने के लिए पैंट्री कारों में गैस के स्थान पर इंडक्शन आधारित कुकिंग की व्यवस्था होगी । 

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...