अंततः जाकिर नाइक ने की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से प्रेस कॉन्फ्रेंस

Share Button

नयी‍ दिल्‍ली।  विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाइक ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्‍यम से प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने अपने को शांति दूत बताया और शुरू में ही फ्रांस हमले की निंदा की. जाकिर ने कहा, बांग्‍लादेश की एक रिपोर्ट के आधार पर ही भारतीय मीडिया ने मेरा ट्रायल शुरू कर दिया, जो की गलत है.

मैं शांति पर विश्वास करता हूं और मासूमों के कत्ल की निंदा करता हूं. मेरा मीडिया ट्रायल हो रहा है जिसे बंद करना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैंने किसी को आतंक के लिए प्रेरित नहीं किया है. मैं किसी आतंकी से नहीं मिला, लेकिन अगर कोई मेरे साथ खड़ा होता है मेरे साथ फोटो लेता है मैं मुस्कराता हूं, मैं नहीं जानता वे कौन हैं.

जाकिर ने कांन्‍फ्रेंस में साफ कर दिया की वो इस साल भारत लौटने वाला नहीं है. उन्‍होंने कहा, मेरे निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक, मुझे अगले साल भारत आना है, उससे पहले नहीं.

* इस्‍लाम में आत्‍मघाती हमला हराम

जाकिर ने कहा, मैं शांति दूत हूं मैं हर प्रकार के हमले का निंदा करता हूं. इस्‍लाम में आत्‍मघाती हमला हराम माना गया है. मासूमों की जान लेना गलत है, हालांकि अगर देश की रक्षा के लिए आत्‍मघाती हमला किया गया तो यह जायज है. उन्‍होंने कहा, किसी की जान बचाने के लिए शराब पीना भी जायज है.

* मुस्लिम चैनल होने के कारण पीस टीवी पर बैन

जाकिर ने भारत सरकार पर बड़ा हमला किया. उसने कहा, कि मुस्लिम चैनल होने के कारण पीस टीवी पर बैन लगाया गया है. अगर मेरे भाषण भड़काऊ नहीं थे तो फिर पीस टीवी पर बैन क्‍यों लगाया गया. पीस टीवी कानूनी सेटेलाइट टीवी है और इसके लाइसेंस के लिए आवेदन भी दिया गया है.

* किसी सरकारी एजेंसी ने मुझसे संपर्क नहीं किया

जाकिर ने कहा, मुझसे अब तक किसी भी सरकारी एजेंसी ने संपर्क नहीं किया है. मुझे भारत सरकार, पुलिस से कोई समस्या नहीं है. पुलिस ने मुझे किसी भी मामले में नहीं बुलाया. मैं हर तरह की जांच में सहयोग को तैयार हूं.

* मैंने कभी किसी को आतंक के लिए प्रेरित नहीं किया

जाकिर ने आज सऊदी के मदीना से स्‍काइप के जरिये प्रेस क‍ांन्‍फ्रेंस किया और मीडिया के सवालों का जवाब दिया. उन्‍होंने कहा, मैने कभी भी किसी को आतंक के लिए प्रेरित नहीं किया है. मेरे जवाब को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया, जिन्होंने यह किया उनकी जवाबदेही तय की जानी चाहिए. भारत में मुस्लिमों से संबंधित आंकड़ा मुझे नहीं पता है. उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, ‘मेरा ऐसा कोई विडियो दिखाइए जहां मैंने किसी आत्मघाती हमले की निंदा नहीं की हो’. जाकिर नाइक ने माना कि उन्हें भारत के मुस्लिमों की साक्षरता दर के बारे में जानकारी नहीं है.

* तीन बार रद्द हो चुका है नाइक का प्रेस कांन्‍फ्रेंस

ज्ञात हो जाकिर नाइक का प्रेस कांन्‍फ्रेंस तीन बार रद्द हो चुका है. गत बुधवार को भी उनकी पीसी को रद्द करना पड़ा था. आज का प्रेस कॉन्फ्रेंस दक्षिण मुंबई के मझगांव में एक छोटे हॉल में किया गया. उल्लेखनीय है कि मुंबई का 50 वर्षीय प्रवचनकर्ता फिलहाल विदेश में है.

Share Button

Relate Newss:

हाय री नालंदा की मीडिया, भ्रष्ट्राचार के विस्फोटक न्यूज को यूं पचा गये!
43 साल से सेक्स-टैक्स ले रही है अमेरिकी सरकार !
सिध्दू से मिलने के बाद राहुल ने अमरिंदर को दिल्ली बुलाया
पर्यावरण को यूँ नष्ट कर रहे हैं खनन माफिया
अब सोनी टीवी पर प्रसारित ‘कॉमेडी नाइट विद कपिल’ !
भोपाल सेंट्रल जेल से प्रतिबंधित  सिमी के आठ लोग फ़रार
पत्रकारों के हित झारखंड यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट ने की आज शानदार पहल
एनएजे ने सीएम को लिखा पत्र- पत्रकार को तत्काल रिहा कर नालंदा डीईओ पर हो कड़ी कार्रवाई
नरेंद्र मोदी से बेहतर हैं आदित्यनाथ, उन्हें बनने चाहिए अगले पीएमः राम गोपाल वर्मा
क्या इस चक्रव्यूह से निकल पाएगें लालू जी के दोनों लाल
नवादा DPRO की दादागिरी, 'डीएम-जेबकतरा' खबर को लेकर 3 पत्रकारों पर बैन
रेलवे की जमीन से जारी पशुओं की अवैध खरीद-बिक्री पर प्रशासन की वैध मुहर !
भ्रष्टाचार को लेकर दोहरा मापदंड अपना रही है झारखंड की रघुबर सरकार
संदर्भ नालंदा गैंगरेप: पुलिस, न्याय, खानापूर्ति और खामोशी!
बाज गइल डंका: लग गइल डंक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...